धर्म-कर्म

अन्य खबरें

Diwali 2019: इस दिवाली पर आप छोड़ना चाहते हैं पटाखे तो यह खबर आपके लिए ही है

पटाखे जलाते वक्त सावधानी बरतनी भी काफी जरूरी होता है, पटाखे जलाते वक्त क्या करें और क्या ना करें

Diwali 2019: ये है पूजा सामग्री की पूरी लिस्ट, ध्यान से कर लें चेक

दिवाली (Diwali 2019) के दिन देवी लक्ष्मी और भगवान गणेश की पूजा करने का भी काफी महत्व है. इस साल दिवाली 27 अक्टूबर को पड़ रही है. ऐसे में लोगों की तैयारियां भी जोरों पर हैं.

Diwali 2019: मिठाई ही नहीं इस दिवाली इन चीजों को खिलाकर करेें मेहमानों का दिल खुश

इस साल 27 अक्टूबर को दिवाली का त्यौहार मनाया जाएगा. कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की अमावस्या के दिन प्रदोष काल में दीवाली का त्यौहार मनाया जाता है.

Diwali 2019: ...इस वजह से धन की देवी कहलाती है माता लक्ष्मी और पूजा करने से बरसता पैसा

हिंदु धर्म की परंपराओं के अनुसार, गणपति भगवान को ऋद्धि-सिद्धि के अधिपति और मां लक्ष्मी को धन-संपत्ति की देवी कहा जाता है. इनकी कृपा होने के बाद संसार का सारा सुख मिल जाता है. दिवाली पर मां लक्ष्मी की कृपा पाने लिए हर कोई पूरी शिद्दत से इसकी तैयारी में जुटा रहता है.

Diwali 2019: आखिर दिवाली के दिन लक्ष्मी और गणेश की ही क्यों की जाती है पूजा, जानें वजह

हिंदु धर्म की परंपराओं के अनुसार, गणपति भगवान को ऋद्धि-सिद्धि के अधिपति और मां लक्ष्मी को धन-संपत्ति की देवी कहा जाता है. इनकी कृपा होने के बाद संसार का सारा सुख मिल जाता है.

Ahoi Ashtami 2019: जानें क्या है अहोई अष्टमी व्रत का महत्व और पूजा-विधि

आज यानी कि 21 अक्टूबर को संतान की प्राप्ति और उसकी लंबी उम्र के लिए अहोई अष्टमी (Ahoi Ashtami) मनाया जा रहा है. इस दिन माता पार्वती की पूजा की जाती है.

Diwali 2019: इस दिवाली से अगले दिवाली तक बरसेंगी खुशियां, अगर आपने किया ऐसा

दिवाली (Diwali 2019) इस साल 27 अक्टूबर को मनाई जाएगी. इस बार लक्ष्मी पूजा का मुहूर्त शाम 6.43 से रात 815 तक है वहीं प्रदोष काल शाम 5.41 से रात 8.15 तक और वृषभ काल शाम 6.43 से रात 8.39 तक है. वैसे तो इस दिन लक्ष्मी-गणेश के साथ-साथ भगवान कुबेर की भी पूजा का महत्‍व है.

Diwali 2019: मिलावटी मिठाईयों से रहे दूर, इस दिवाली घर की इन स्वादिष्ट मिठाई से कराएं मुंह मीठा

इस साल 27 अक्टूबर को दीपावली का त्यौहार मनाया जाएगा. कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की अमावस्या के दिन प्रदोष काल में दीवाली का त्यौहार मनाया जाता है. इस दिन भगवान गणेश और माता लक्ष्मी के साथ धन के देवता कुबेर की पूजा की जाती है.

Diwali 2019: जानिए कब है दिवाली और क्या है पूजा का शुभ मुहूर्त

इस दिन दिए जलाने का भी काफी महत्व होता है. यही कारण है कि इसे दीपों का पर्व कहा जाता है जो अंधेरे पर प्रकाश की जीत का प्रतीक है

Diwali 2019: दिवाली के दिन इन बातों का रखें ध्यान, बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपा

इस साल 27 अक्टूबर को दीपावली का त्यौहार मनाया जाएगा. कार्तिस मास के कृष्ण पक्ष की अमावस्या के दिन प्रदोष काल में दीवाली का त्यौहार मनाया जाता है.

Diwali 2019: 19 अक्टूबर से लेकर दीपावली तक बन रहे हैं कई शुभ संयोग, इस-इस दिन करें खरीदारी

इस साल दिवाली का त्योहार 27 अक्टूबर को मनाया जाने वाला है. पौराणिक कथाओं की मानें तो इस दिन भगवान राम लंका पर विजय प्राप्त करके अयोध्या लौटे थे. राम के लौटने के बाद पूरे अयोध्या को दीपों से सजाया गया था.

न्यूज़ फीचर

मुख्य खबरें

वीडियो

फोटो