धर्म-कर्म

अन्य खबरें

तुलसी विवाह करने जा रहे हैं तो इस देवता की साथ में न करें पूजा

क्षीर सागर में चार महीने की योगनिद्रा के बाद भगवान विष्णु आज उठ गए हैं. आज देवोत्थान एकादशी है और इस दिन तुलसी विवाह (Tulsi Vivah) की परंपरा है.

Guru Nanak Birth Anniversary 2019: इन संदेशों के साथ दें गुरु नानक जयंती की शुभकामनाएं

गुरु नानक देव की जयंती पर हम आपके लिए लेकर आए हैं खास संदेश जिन्हें आपको अपने करीबियों को जरूर भेजने चाहिए.

Guru Nanak 550th Birth Anniversary: गुरु नानक की वो 10 शिक्षाएं जो आपको जरूर जाननी चाहिए

माना जाता है कि गुरु नानक जी ने अपने व्यक्तित्व में दार्शनिक, योगी, धर्मसुधारक, देशभक्त और कवि के गुण समेटे हुए थे. गुरु पर्व के दिन सुबह 5 बजे प्रभात फेरी निकाली जाती है

Guru Nanak 550th Birth Anniversary: जानें क्यों खास है करतारपुर साहिब गुरुद्वारा

इस साल गुरुनानक देव की 550वीं जयंती मनाने के लिए यहां सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है. भारत से रवाना श्रद्धालुओं का जत्था भी गुरुनानक की 550वीं जयंती यहीं मनाएगा

कल से श्रद्धालुओं के लिए खुल जाएगा करतारपुर कॉरिडोर, जानें इस मामले में कब क्या हुआ

गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व मनाने के लिए 1300 श्रदालुओं का जत्था मंगलवार को पाकिस्तान के लिए रवाना हो गया है. ये जत्था पाकिस्तान में स्थित करतारपुर सहित अलग-अलग गुरुद्वारा के दर्शन कर 10 दिन बाद वापस भारत लौटेगा

History Of Ayodhya: क्‍या आप जानते हैं भगवान श्रीराम के पुत्र लव-कुश के नाती-पोतों का नाम?

अयोध्या (Ayodhya) के रामजन्म भूमि विवाद (Ramjanm Bhoomi Vivad) पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) इस हफ्ते शनिवार तक फैसला सुना सकता है.फैसला चाहे जिसके पक्ष में आए पर क्‍या आप अयोध्‍या का इतिहास जानते हैं.

Devuthni Ekadashi 2019: पापों से मुक्ति पाने के लिए सर्वश्रेष्ठ है ये व्रत

बताया जाता है कि भाद्रपक्ष की एकदशी को भगवान विष्णु ने शंखासुर नामक भयंकर राक्षस को मारा और फिर भारी थकान के बाद सो गए. इसके बाद 4 महीनें बाद वह अपनी निद्रा से उठे. देवउठनी एकादशी को प्रबोधिनी एकादशी भी कहा जाता है.

8 नवंबर को जाग रहे हैं भगवान विष्णु, देवोत्थान एकादशी से बजने लगेंगी शहनाई

देवउठनी एकादशी के दिन भगवान विष्णु की पूजा करने से परिवार पर प्रभु की विशेष कृपा बनी रहती है. साथ ही मां लक्ष्मी घर पर सदैव धन, संपदा और वैभव की वर्षा करती हैं. देवोत्थान एकादशी यानी 8 नवंबर को तुलसी विवाह की भी परंपरा है.

5 नवंबर को गुरु बृहस्पति बदल रहे हैं घर, जानिए आपके जीवन पर क्‍या पड़ेगा प्रभाव

लगभग पांच महीने तक बृहस्पति धनु राशि में ही रहेंगे. आइए जानें बृहस्पति के इस गोचर का 12 राशियों पर क्‍या प्रभाव पड़ेगा....

उगते सूर्य को अर्घ्‍य के साथ संपन्‍न हुआ बिहार और पूर्वी उत्‍तर प्रदेश का सबसे बड़ा पर्व छठ

शुक्रवार शाम को खरना के बाद निर्जला व्रत शुरू प्रारंभ हुआ था, जिसका परायण आज उगले सूरज को अर्घ्‍य देने के बाद हुआ. छठ पूजा के श्रद्धालुओं ने 36 घंटे का कठिन व्रत रखा.

Chhath 2019: आज डूबते हुए सूरज को अर्घ्य देते वक्त इन बातों का रखें खास ध्यान

इस दिन व्रत रखने के बाद व्रती शाम को डूबते सूर्य को अर्घ्य देते हैं और रात भर जागकर सूर्य देवता के जल्दी उदय होने की कामना करते हैं

न्यूज़ फीचर

मुख्य खबरें

वीडियो

फोटो