BREAKING NEWS
  • रुद्रप्रयाग में बड़ा हादसा, पहाड़ी से मलबा गिरने से 8 लोगों की मौत- Read More »

धर्म-कर्म

अन्य खबरें

Pitru Paksha 2019: गया में ही क्यों किया जाता है पितरों का श्राद्ध, जानें

मान्यता है कि बिहार के गया में पूर्वजों का पिंडदान करने से उन्हें मोक्ष की प्राप्ति होती है. ऐसे में हिन्हुओं के लिए गया का काफी महत्व है.

Pitru Paksha 2019: 13 या 14, जानें कब से शुरू हो रहे हैं श्राद्ध, भूल कर भी न करें ये काम

शास्त्रों की मानें तो पितृ पक्ष के दौरान कई नियमों का पालन करना होता है. कई ऐसे कार्य हैं जो पितृ पक्ष के दौरान निषेध होते हैं. कहते हैं अगर पितृपक्ष के दौरान इन नियमों का पालन न किया जाए तो व्यक्ति को तमाम दुख और परेशानियों से गुजरना पड़ता है

Ganesh Visarjan 2019: आज अनंत चतुदर्शी के दिन इस शुभ मुहूर्त पर होगा बप्पा का विसर्जन, इन बातों का रखें खास ध्यान

बप्पा का विसर्जन अनंत चतुर्दशी के दिन करने की परंपरा है जो हर साल भादो माह शुक्‍ल पक्ष की चौदस यानी कि 14वें दिन मनाई जाती है. इस साल ये तिथि 12 सितंबर को पड़ रही है

पितृपक्ष 2019: जानिए क्या है इस साल श्राद्ध की सही तिथियां और पितरों का तर्पण पूरा करने के लिए कैसे करें श्राद्ध

बताया जा रहा है कि इस साल पितृपक्ष में दशमी और एकदशी का श्राद्ध एक ही दिन होगा. दरअसल 24 सितंबर को दशमी 11.42 तक रहेगी और फिर एकादशी लग जाएगी. ऐसे में मध्य समय में दोनों तिथियों का योग होने से श्राद्ध एक ही दिन होगा.

Muharram 2019: जानिए क्यों मनाते हैं मुहर्रम, क्या थी कर्बला की जंग जिसके लिए मनाया जाता है मातम

आज से लगभग 1400 साल पहले मुहर्रम के महीने में इस्लामिक तारीख की एक ऐतिहासिक जंग हुई थी.

भाइयों की लंबी आयु के लिए बहनों ने धूम-धाम से मनाया कर्मा पर्व

ऐसा ही दृश्य झारखंड के रामगढ़ में देखने को मिला. यहां जगह-जगह अखाड़ा बनाकर कर्मा डायर गाड़ कर अखाड़ा में पूजा अर्चना की गयी.

Parivartani Ekadashi 2019: परिवर्तिनी एकादशी के दिन ऐसे करें पूजा, मिलेगा विशेष लाभ, इन बातों का रखें खास ध्यान

पद्म एकादशी के दिन सुबह नहा-धोकर पीले रंग के वस्त्र पहन कर भगवान विष्णु का ध्यान कर व्रत का संकल्प लें

Maha Lakshmi Vrat 2019: आज महालक्ष्मी व्रत के दिन ऐसे करें माता लक्ष्मी की पूजा, मिलेगी विशेष कृपा

मान्यता है कि जो भक्त श्रद्धा भाव से इस दिन मां लक्ष्मी की पूजा करते हैं और पूरे 16 दिनों तक महालक्ष्मी की पूजा करते हैं, उन्हें कभी भी आर्थिक तंगी का सामना नहीं करना पड़ता

गणेशोत्‍सवः यहां गणपति बप्‍पा को हर रोज आ रहे हैं बोरा भर के पत्र

पुजारियों द्वारा गणपति की मूर्ति के सामने पत्र पढ़ा जाता है और उम्मीद की जाती है कि भक्तों की प्रार्थना भगवान सुनेंगे और मनोकामना पूरा करेंगे.

स्वच्छता के मामले में सबसे टॉप पर पहुंचा माता वैष्णो देवी का मंदिर, मिलेगा ये विशेष सम्मान

मंदिर को इस पहले स्थान पर पहुंचाने के पीछे 1300 कार्यकर्ताओं की मेहनत भी है.

Rishi Panchami 2019: क्यों मनाई जाती है ऋषि पंचमी? जानिए शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

ऋषि पंचमी पर सभी स्त्री-पुरुष जाने-अनजाने में हुई गलती के लिए सप्त ऋषियों के लिए व्रत करके उनसे आशीर्वाद प्राप्त करते है.

न्यूज़ फीचर

मुख्य खबरें

वीडियो

फोटो