धर्म-कर्म

अन्य खबरें

Surya Grahan 2019: लग गया है सूर्यग्रहण, जानें इस दौरान क्या एहतियात बरतें

सूर्य ग्रहण की वलयाकार अवस्था दोपहर 12 बजकर 29 मिनट पर समाप्त होगी.

Christmas Day 2019: ईसा मसीह का भारत और भगवान कृष्ण से हैं ये खास कनेक्शन

अमेरिका में 1870 से क्रिसमस के दिन को राजकीय अवकाश रखा जाता है. इस दिन को ईसाईयों के साथ सभी धर्मों के लोग बड़ी ही धूमधाम से मनाते हैं. इस पर्व को प्रभु ईसा मसीह के जन्मदिन के उपलक्ष्य में मनाते हैं, जिन्होंने अपने चमत्कारों से दुनियाभर में इस धर्म क

Solar Eclipse 2019: 26 दिसंबर को साल का आखिरी सूर्य ग्रहण, 144 साल बाद बन रहा खास संयोग

इस सूर्य ग्रहण का कर्क और कुंभ राशि पर शुभ प्रभाव पड़ेगा जबकि बाकी राशियों के लिए कष्टकारी साबित हो सकता है.

ठंड से थर्रथर्राया उत्तर प्रदेश, मंदिर में भगवानों को पहनाया ऊनी वस्त्र, ओढ़ाई गई रजाई

उत्तर प्रदेश में भीषण ठंड से भगवान को परेशानी का सामना न करना पड़े, इसलिए उन्हें ऊनी वस्त्र पहनाए जा रहे हैं. वाराणसी के बड़ा गणेश मंदिर में जहां देवता को रजाई ओढ़ाई गई है, वहीं उनके मूषक ने भी शॉल ओढ़ रखा है.

इस दिन लग रहा है साल का आखिरी सूर्यग्रहण, यहां जानें पूरी Details

इस साल का आखिरी सूर्य ग्रहण 26 दिसंबर, 2019 (5 पौष, शक संवत 1941) को लगने जा रहा है जो वलयाकार सूर्य ग्रहण होगा अर्थात पूर्णग्रास नहीं बल्कि खंडग्रास सूर्य ग्रहण होगा.

आखिर भगवान शिव शरीर पर क्यों लगाते हैं भस्म, जानें इसका महत्व और पूजा-विधि

धार्मिक मान्यता के अनुसार, भगवान शिव को मृत्यु का स्वामी माना गया है. इसी वजह से 'शव' से 'शिव' नाम बना. महादेव के मुताबिक शरीर नश्वर है और इसे एक दिन भस्म की तरह राख हो जाना है. जीवन के इस पड़ाव के सम्मान में शिव जी अपने शरीर पर भस्म लगाते हैं.

इन मंत्रों के साथ करें भगवान शनिदेव की पूजा, दूर हो जाएंगे सारे कष्ट

शनिदेव जितने कठोर भगवान के तौर पर देखें जाते हैं उतने ही दयालु भी हैं. वो अपने सच्चे भक्त की सारी मन्नतें पूरी करते है और उन्हें जीवन के हर कष्ट से दूर रखते हैं. तो ऐसे में आइए हम आपको बताते हैं कि आखिर शनि देव की पूजा करते समय किन बातों का खास ख्याल

Dattatreya Jayanti 2019: ऐसे करें भगवान दत्तात्रेय की पूजा, पूरी होगी ये मनोकामनाएं

11 दिसंबर 2019 यानि की बुधवार को भगवान दत्तात्रेय की जयंती मनाई जाएगी. हर साल मार्गशीर्ष मास की पुर्णिमा के दिन ये जयंती मनाई जाती है.

शास्त्रों में सोम प्रदोष व्रत का है खास महत्व, मनचाहा जीवनसाथी से लेकर पूर्ण होती है ये इच्छाएं

प्रदोष व्रत हर महीने की दोनों पक्षों की त्रयोदशी तिथि को किया जाता है. किसी भी प्रदोष व्रत में शाम सूर्यास्त से 45 मिनट पहले और सूर्यास्त के 45 मिनट बाद तक भगवान शिव की पूजा की जाती है.

क्या है सबरीमाला मंदिर का इतिहास, आखिर क्यों है औरतों का आना मना?

एक बार फिर केरल का सबरीमाला मंदिर सुर्खियों में है. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी महिलाएं भगवान अयप्पा के दर्शन के लिए लड़ रही है. इस मामले में केरल की रहने वाली फातिमा ने याचिका भी दाखिल की है.

Mokshada Ekadashi 2019: इस दिन मनाया जाएगा मोक्षदा एकादशी, मिलेगी मोक्ष की प्राप्ति

मोक्षदा एकादशी मार्गशीर्ष शुक्ल एकादशी को आती है, जो इस बार 8 दिसंबर को मनाई जाएगी. मान्यता के अनुसार, इस दिन पूजा उपासना से व्यक्ति को मोक्ष की प्राप्ति होती है. वहीं बताया जाता है कि इसी दिन भगवान कृष्ण ने गीता का ज्ञान दिया था.

न्यूज़ फीचर

मुख्य खबरें

वीडियो

फोटो