इन 5 इशारों से समझे प्यार नहीं बल्कि इस झूठे रिलेशनशिप में हैं आप

रिबाउंड रिलेशनशिप में आपके पास पार्टनर तो होता है पर प्यार भी ये जरूरी नहीं होता है।

  |   Updated On : May 15, 2017 10:36 PM

नई दिल्ली:  

दिल टूटने के बाद दुबारा प्यार किया जा सकता है। लेकिन कई बार पहले प्यार के गम से निपटने के लिए लोग किसी और से प्यार से कर बैठते है। इस तरह के रिश्तों को ही रिबांउड रिलेशनशिप कहा जाता है। रिबाउंड रिलेशनशिप में आपके पास पार्टनर तो होता है पर प्यार भी ये जरूरी नहीं होता है। अगर आपका पार्टनर या खुद आप किसी ब्रेकअप से गुजर कर नए रिश्तें में आए हैं, तो ये जानना जरूरी है कि य़े प्यार है या सिर्फ रिबाउंड। इन इशारों पर जरा ध्यान दें:-

पूरे टाइम एक्स की बातें
नए प्यार में आकर भी अगर आपका पार्टनर लगातार एक्स की बुराईयों या अच्छाइयों के बारे में ही बात करता रहता है, तो सही संकेत नहीं है। कई बार आपका ब्रेकअप तो हो चुका होता पर नए रिश्तें में जाने के लिए तैयार हो, ऐसा जरूरी नहीं होता है। सिर्फ भावनात्मक और शारीरिक जरूरतों के लिए आप दूसरे रिश्तें में चले जाते है। ये अच्छी बात नहीं है। प्यार में तुलना नहीं होती है। ऐसे में ध्यान दें, कहीं आपका पार्टनर आपकी अपने एक्स से तुलना तो नहीं करता है।

इसे भी पढ़ें: ये 5 टिप्स मजबूत करेंगे आपके प्यार के रिश्ते की डोर

प्यार की प्रदर्शनी
प्यार खुलेआम करना कोई बुरी बात नहीं है, पर इसका मतलब कहीं अपने एक्स को जलाने के लिए ढिंढोरा ना पीटा जा रहा हो। सोशल साइट्स और दोस्तों के बीच जरूरत ना होते ही बार-बार आपका ऱिश्ता चर्चा का विषय बना हुआ हो। वो बस अपने एक्स को ये बताना चाहते है कि अब उनकी जिंदगी में आप आ चुके हैं और वो आपके साथ बहुत खुश हैं। इसका मतलब एक्स अब भी उनकी लाइफ में मैटर करता है।

कमिटमेंट से कतराते हैं
रिबाउंड रिश्तों में अक्सर लोग कमिटमेंट से कतराते है। वो अपने पुराने ब्रेकअप का हलावा देते रहते है। लेकिन ये सही नहीं है। अगर आपके रिश्ते को शुरू हुए बहुत टाइम नहीं हुआ तो ठीक है। पर एक समय के बाद कमिटमेंट से कतराना गलत है। ऐसे लोग अकेलापन पूरा करने के लिए आपका इस्तेमाल कर रहे होते है।

इसे भी पढ़ें: रिश्तों के बीच दूरियां बढ़ा रहा है फबिंग, जानिए इसके बारे में

जरूरतें पूरी करना
कुछ लोगों को पार्टनर सिर्फ उनकी जरूरतें पूरी करने के लिए होते हैं। ऐसे में वे ब्रेकअप के बाद नए पार्टनर के साठ रिश्तें में जाने के लिए ज्यादा टाइम नहीं लेते है। वो आपके करीब इसलिए भी हो सकती है क्योंकि वो खुद को किसी से दूर रखना चाहती है। इसलिए खुद को ये दिलासा देना बंद करें कि आपके साथ रिश्ते को लेकर वो कंफ्यूज है।

आपकी पसंद, नापसंद में दिलचस्पी नहीं
आप अपने पार्टनर के लिए क्या मायने रखते हैं इसे जानने का सबसे आसान तरीका है कि आप ये पता लगाने की कोशिश करें कि उन्हें आपके बारे में कितना कुछ पता है। इस बात पर गौर करें कि क्या वो आपकी पसंद या नापसंद का ख्याल रखते हैं? अगर आपका रिश्ता शुरुआती स्टेज पर है तो कोई बात नहीं, उन्हें वक्त दें। लेकिन ये भी जानने की कोशिश करें कि क्या वो आपके बारे में ज्यादा जानना चाहते हैं भी या नहीं।

आईपीएल 10 से जुड़ी हर बड़ी खबर के लिए यहां क्लिक करें

एंटरटेनमेंट की खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

First Published: Monday, May 15, 2017 09:58 PM

RELATED TAG: Rebound Relationship,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो