ब्रेकअप से हैं परेशान, प्लेसबो थेरेपी कर सकती है आपकी मदद

प्लेसबो थेरेपी अपनाइयें, ये आपके ब्रेकअप के गम को दूर करने में आपकी मदद करेगी।

  |   Updated On : April 25, 2017 10:37 PM

नई दिल्ली:  

अगर जल्द में ही आपका ब्रेकअप हुआ है और आप इससे उबर नहीं पा रहें है। तो प्लेसबो थेरेपी अपनाइयें, ये आपके ब्रेकअप के गम को दूर करने में आपकी मदद करेगी। ये नतीजा प्लेसबो पर दशकों की गई शोध के बाद सामने आया है।

प्लेसबो थेरेपी में झूठमूठ का इलाज कर आपके दर्द को कम करने की एक तरकीब है। ये ज्यादातर पार्किंसन जैसी बीमारियों को दूर करने के लिए अपनाया जाता है। ये शोध जर्नल ऑफ न्यूरोसांइस में छपी है।

शोध के अनुसार प्लेसबो ट्रीटमेंट आपके ब्रेकअप के कारण हुए इमोशनल तनाव को दूर करने में मदद करता है। अमेरिका की कोलार्डो यूनिवर्सिटी के शोधकर्ता लीओनी कोबन के अनुसार,' ब्रेकअप के बाद व्यक्ति नकारात्मक भावनाओं से भर जाता है। जो मानसिक समस्याओं को बढ़ावा देता है।' 

इसे भी पढ़ें: गर्मियों में नारियल तेल के अलावा ये उपाय धूप से आपकी त्वचा की करेंगे रक्षा

कोबन का कहना है कि इस तरह की बीमारियां आने वाले सालों में अवसाद से 20 गुना ज्यादा खतरनाक हो सकता है।, कोबन ने कहा,' हमने अपने शोध में पाया कि प्लेसबो इस तरह के दर्द को कम करने के लिए प्रभावी थेरेपी है।'

इस शोध में पिछले 6 महीनों में ब्रेकअप झेलने वाले 40 लोगों को शामिल किया गया था। इस थेरेपी का प्रयोग करते हुए प्रतिभागियों को एक नेसल स्प्रे दी गई थी। जिसमें से आधे लोगों को कहा गया था कि ये इमोशनल पेन को कम करने वाली दर्दनाशक दवा है। वहीं आधे लोगों को कहा गया कि ये सादी दवा है।

इसे भी पढ़ें: 6 लाख लीटर खून बर्बाद, ब्लड बैंक और अस्पताल में तालमेल की कमी

उसके बाद प्रतिभागियों को उनके एक्स पार्टनर की फोटो दिखाई गई। जिन्हें प्लेसबो थेरेपी दी गई थी, उन्हें दर्द का कम अनुभव हुआ, दूसरे ग्रुप के लोगों को उतना ही दर्द हुआ।

शोधकर्ताओं के अनुसार दिमाग को कहीं और लगाने से इमोशनल पेन में कमी आती है, वहीं बार-बार उसी बात को सोचने से दर्द बढ़ता रहता है।

First Published: Tuesday, April 25, 2017 09:50 PM

RELATED TAG: Break Up,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो