राजस्थान: जानें क्यों बदला इस गांव का नाम, 'मियों का बाड़ा' बन गया 'महेश नगर'

गांव के सरपंच का कहना है कि 'मियों का बाड़ा' से नाम बदलने की मांग 10 साल पुरानी है।

  |   Updated On : August 09, 2018 03:55 PM
 राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे

राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे

नई दिल्ली:  

उत्तरप्रदेश के मुगलसराय स्टेशन का नाम बदलकर पंडित दीन दयाल स्टेशन किये जाने के बाद बीजेपी शासित राज्यों में अपने क्षेत्र के महापुरुषों के नाम पर रखने की मांग तेज हो गई है। राजस्थान में आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए बाड़मेंर जिले के एक गांव का नाम सरकार ने बदल दिया है। मियों का बाड़ा नाम से मशहूर इस गांव का नाम बदलकर सरकार ने 'महेश नगर' कर दिया है।

इसको लेकर गृह मंत्रालय से मंजूरी भी मिल गई है। जानकारी के मुताबिक गृह मंत्रालय को राज्य की बीजेपी सरकार ने इस साल की शुरुआत में प्रस्ताव भेजा था, जिसे गृह मंत्रालय ने अपनी मंजूरी दे दी है।

वही गांव के सरपंच का कहना है कि 'मियों का बाड़ा' से नाम बदलने की मांग 10 साल पुरानी है।

और पढ़ें: राजस्थान: मोबाइल टावर पर चढ़ा कर्ज से परेशान बिजनेसमैन, पुलिस जांच में जुटी

उनका कहना है कि 'इस गांव में शिव के होने की वजह से इसका नाम महेश नगर रखा गया है। इससे पहले गांव का यही नाम था। लेकिन वक्त के साथ लोगों की बोली में बदलाव और पलायन के चलते इसे मियों का बाड़ा बुलाया जाने लगा।

नियमों के अनुसार 'राज्य सरकार चाहे तो किसी भी गांव का नाम बदल सकती है। राजस्थान के पब्लिक वर्क डिपार्टमेंट, पोस्ट विभाग और जीएसआई को इस संबंध में एक सूचना भेजी जानी है।

और पढ़ें: बीजेपी में सबकुछ ठीक नहीं, वसुंधरा सरकार अपनी नाकामी से हारेगी चुनाव: सचिन पायलट

मुगलसराय के नाम बदलने के बाद विरोधियों के तीखे तेवर देखने वाली भारतीय जनता पार्टी अब इस नए नाम परिवर्तन को लेकर क्या स्टैंड रखती है यह देखने वाली बात होगी।

First Published: Thursday, August 09, 2018 03:45 PM

RELATED TAG: Vasundhara Raje, Rajasthan Assembly Elections, Miyon Ka Bara Village,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो