राजस्थान चुनाव: शरद यादव ने वसुंधरा राजे पर की अपमानजनक टिप्पणी

चुनावी माहौल में नेता विपक्ष पर हमलावर तेवर अख्तियार किये हुए हैं. इस दौरान नेता आपत्तिजनक और विवादित बयान देने से नहीं चूक रहे.

News State Bureau  |   Updated On : December 06, 2018 06:28 PM
लोकतांत्रिक जनता दल के नेता शरद यादव (फोटो-IANS)

लोकतांत्रिक जनता दल के नेता शरद यादव (फोटो-IANS)

नई दिल्ली :  

चुनावी माहौल में नेता विपक्ष पर हमलावर तेवर अख्तियार किये हुए हैं. इस दौरान नेता आपत्तिजनक और विवादित बयान देने से नहीं चूक रहे. राजस्थान के अलवर में लोकतांत्रिक जनता दल के नेता शरद यादव ने सूबे की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर आपत्तिजनक टिपण्णी की. शब्दों की मर्यादा भूलते हुए शरद यादव ने कहा, 'वसुंधरा को आराम दो, बहुत थक गई हैं, बहुत मोटी हो गई हैं, पहले पतली थी. हमारे मध्य प्रदेश की बेटी है. राजे पर निशाना साधते हुए शरद यादव ने कहा कि महलों में रहने वाली किसानों का दर्द नहीं समझती.'

आगे उन्होने कहा, 'बीजेपी पांचों राज्यों में चुनाव हारेगी, पार्टी सत्ता में आने के लिए एक-एक सीट पर 40 से 50 करोड़ रुपए खर्च कर रही है. यह लोकतंत्र के लिए अच्छी बात नहीं है.' कांग्रेस, लोकतांत्रिक जनता दल और राष्ट्रीय लोकदल गठबंधन के प्रत्याशी भारत यादव के समर्थन में हुई सभा को शरद यादव, रालोद के जयंत चौधरी और अन्य कांग्रेस नेता ने केंद्र और बीजेपी पर जमकर निशाना साधा.

यह पहला मौका नहीं है जब शरद यादव महिला पर अभद्र टिप्पणियां की हो. शरद यादव ने कहा था कि दक्षिण भारत की महिलाएं सांवली जरूर होती हैं, लेकिन उनका शरीर खूबसूरत होता है, उनकी त्वचा सुंदर होती है, वे नाचना भी जानती हैं.

इससे पहले भी कई नेता अपने विवादित बयानों के कारण सुर्खियां बटोरी थी. पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने अलवर में पीएम मोदी पर निशाना साधा था. राफेल पर निशाना साधते हुए सिद्धू ने कहा था कि चौकीदार का कुत्ता भी चोर से मिल गया है.' मध्यप्रदेश में कांग्रेस नेता राज बब्बर ने पीएम मोदी की मां की तुलना गिरते रुपये से कर डाली थी, जिसे लेकर बीजेपी ने कड़ी आपत्ति जताई थी.

और पढ़ें: तेलंगाना में वोटिंग से पहले पुलिस ने जब्त किये करोड़ों रुपये, केस दर्ज, अब तक 110 करोड़ कैश बरामद

राजस्थान में लगभग दो महीने के चुनावी कोलाहल पर बुधवार शाम को विराम लग गया. प्रचार की समय सीमा समाप्त होने के साथ ही चुनावी रैलियों, रोड शो और जन सभाओं का क्रम शाम पांच बजे थम गया. मतदान सात दिसम्बर को होगा जिसमें राज्य के चार करोड़ से ज्यादा मतदाता 2274 उम्मीदवारों के राजनीतिक भाग्य का फैसला करेंगे. राजस्थान में 200 विधानसभा सीटों में से 199 विधानसभा सीटों के लिये 189 महिला उम्मीदवारों सहित 2274 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमाने के लिये चुनावी मैदान में उतरे हैं. अलवर जिले के रामगढ़ विधानसभा क्षेत्र में बीएसपी उम्मीदवार के निधन के कारण चुनाव स्थगित कर दिया गया है. मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी हर दिन पांच से सात चुनावी सभाएं की.

और पढ़ें: बुलंदशहर हिंसा: शहीद इंस्पेक्टर सुबोध कुमार के नाम पर होगा कॉलेज और सड़क, सरकार ने किया एलान

राज्य में मुख्य मुकाबला बीजेपी और कांग्रेस के बीच माना जा रहा है और लगभग 130 सीटों पर इन दोनों पार्टियों के उम्मीदवारों में सीधी टक्कर है. वहीं 50 सीटों पर मुकाबला त्रिकोणिय माना जा रहा है जिनमें से 45 सीटों पर दोनों पार्टियों के बागी उम्मीदवारों ने मुकाबले को रोचक बना दिया है.

First Published: Thursday, December 06, 2018 05:57 PM

RELATED TAG: Sharad Yadav, Vasundhara Raje, Rajsthan Assembly Elections,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो