पंजाब विधानसभा चुनावः छिटपुट घटनाओं के बीच शांतिपूर्ण तरीके से हुआ संपन्न

राज्य में करीब 1 करोड़ 97 लाख मतदाताओं ने 117 सीटों खड़े 1145 उम्मीदवारों का भविष्य इवीएम मशीन में बंद कर दिया।

  |   Updated On : February 09, 2017 02:25 PM

नई दिल्ली:  

पंजाब विधानसभा चुनाव छिटपुट घटनाओं के बीच शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुआ। राज्य में कुल 117 सीटों के लिये करीब 70 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया गया।तरन तारण में चुनावी हिंसा देखने को मिली।

एक अकाली सरपंच पर आरोप है कि उसने गोलीबारी कर दी जिसमें एक कांग्रेसी कार्यकर्ता घायल हो गए। वहीं फिरोजपुर जिले में गुरु हर सहाय एरिया के पोलिंग बूथ के पास एक बाइकसवार शख्स ने चलाई गोली। हालांकि इस घटना में किसी के घायल होने की खबर नहीं है।

इस दौरान राज्य में वोटिंग मशीन में तकनीकी गड़बड़ी और हिंसा की छिटपुट घटनाएं सामने आयीं। इस बार चुनाव में कांग्रेस और अकाली-बीजेपी गठबंधन के अलावा आप के चुनाव मैदान में होने से मुकाबला त्रिकोणीय हो गया है। चुनाव में 1145 उम्मीदवार की किस्मत का फैसला मशीन में बंद हो गया।

दोनों राज्य में पिंक बूथ बनाए गए थे। इस बूथ पर केवल महिलाओं को ही वोट डाल सकते थे। पिंक बूथ की खास बात यह थी कि इस पर तैनात कर्मचारी भी महिलाएं ही थी।

इसे भी पढ़ेंः क्या प्रकाश सिंह बादल का बतौर मुख्यमंत्री आखिरी चुनाव होगा?

राज्य में करीब 1 करोड़ 97 लाख मतदाताओं ने 117 सीटों खड़े 1145 उम्मीदवारों का भविष्य इवीएम मशीन में बंद कर दिया। इस चुनाव में 81 महिला उम्मीदवार भी अपनी किस्मत आजमा रही हैं।

इसे भी पढ़ेंः केजरीवाल ने गुरुमुखी भाषा में ट्वीट कर पंजाबियों से कहा, 'सच्चे और ईमानदार पार्टी को वोट दो'

पंजाब में 22615 मतदान केंद्र बनाए गए थे। 117 सीटों में से 83 सीटें सामान्य श्रेणी के लिए थे जबकि 34 सीटें आरक्षित थे। चुनाव में अर्ध सैनिक बलों की 200 से ज्यादा कंपनियां तैनात हैं।

First Published: Saturday, February 04, 2017 09:43 PM

RELATED TAG: Punjab, Election, Bjp, Congress, Aap,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो