वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप: भारतीय बैडमिंटन की रीढ़ बनी पी वी सिंधु ने पूरे टूर्नामेंट में मचाया धमाल, फोटो में देखें

Updated On : August 28, 2017 02:29 PM
पी वी सिंधु (फाइल फोटो)
पी वी सिंधु (फाइल फोटो)
ग्लासगो वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप 2017 के फाइनल में हारने के बाद भी पी वी सिंधु ने भारत की ओर से अपनी छाप छोड़ी है। फाइनल में सिंधु को जापान की नोजोमी ओकुहारा ने कड़े मुकाबले में 21-19, 20-22, 22-20 से हरा दिया। अंतिम समय तक चले इस मुकाबले में हार के बाद सिंधु भावुक होकर कोर्ट में लेट गईं।
मैच में जीत के बाद सिंधु (फाइल फोटो)
मैच में जीत के बाद सिंधु (फाइल फोटो)
भले ही फाइनल में हारने के बाद सिंधु इतिहास रचने से चूक गई हों, लेकिन इससे पहले सेमीफाइनल के शानदार मुकाबले में पी वी सिंधु ने चीन की चेन यूफेई को 21-13, 21-10 से हराया था।
मैच के दौरान सिंधु (फाइल फोटो)
मैच के दौरान सिंधु (फाइल फोटो)
भारत की स्टार शटलर ने क्वार्टर फाइनल में चीन की सुन यू को हराया था। वर्ल्ड रैंकिंग में चौथे नंबर पर काबिज सिंधु ने 39 मिनट तक चले मुकाबले में चीनी खिलाड़ी को 21-14, 21-9 से आसान मात दी थी।
पूरे टूर्नामेंट में सिंधु का रहा शानदार प्रदर्शन
पूरे टूर्नामेंट में सिंधु का रहा शानदार प्रदर्शन
प्री- क्वार्टर फाइनल में पी वी सिंधु ने हांगकांग की चेयुंग नगान यी को 19-21, 23-21, 21-17 से हराया था। आपको बता दें कि पी वी सिंधु से पहले 2015 के वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप में साइना नेहवाल फाइनल तक पहुंची थी।
पी वी सिंधु
पी वी सिंधु
प्री- क्वार्टर फाइनल में पहुंचने से पहले टूर्नामेंट के दूसरे दौर में पांचवीं विश्व वरीयता प्राप्त सिंधु ने कोरियाई खिलाड़ी किम यो मिन को 49 मिनट के भीतर सीधे गेमों में 21-16, 21-14 से मात देकर अपने अभियान की शुरुआत की थी।
पी वी सिंधु (फाइल फोटो)
पी वी सिंधु (फाइल फोटो)
रियो ओलंपिक 2016 की रजत पदक विजेता पी वी सिंधु को पहले दौर में बाय मिलने के कारण सीधे दूसरे दौर से टूर्नामेंट की शुरुआत की। उल्लेखनीय है कि सिंधु ने 2013 और 2014 में हुए विश्व चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीता था।
Post Comment (+)

Live Scorecard

न्यूज़ फीचर

मुख्य खबरें

वीडियो