गांधी जयंती 2017: महात्मा गांधी का जीवन की झलक दिखाती बॉलीवुड की 10 फिल्म

Updated On : October 01, 2017 02:47 PM
गांधी
गांधी
'गांधी' (1982)- महात्मा गांधी पर पहली फिल्म ब्रिटेन के हॉलीवुड डायरेक्टर रिचर्ड एटेनबरो ने बनाई थी। इस फिल्म को आज भी मील का पत्थर कहा जाता है। इस फिल्म में हॉलीवुड कलाकार बेन किंस्ले ने गांधी जी का किरदार निभाया था। गांधी फिल्म को ऑस्कर अवॉर्ड भी मिला।
सरदार
सरदार
'सरदार' (1993)- यह फिल्म सरदार वल्लभ भाई पटेल की जिंदगी पर बनी थी। फिल्म में गांधी जी और सरदार पटेल के मतभेदों के बारें में दिखाया गया है। इसका निर्माण केतन मेहता ने किया था। फिल्म में गांधी जी का किरदार अन्नू कपूर ने निभाया था। जबकि सरदार पटेल का किरदार परेश रावल ने निभाया था।
द मेकिंग ऑफ गांधी
द मेकिंग ऑफ गांधी
'द मेकिंग ऑफ गांधी' (1996)- श्याम बेनेगल निर्देशित इस फिल्म में फिल्म में मोहनदास करमचंद गांधी के महात्मा बनने की कहानी को दिखाया गया है। फिल्म में महात्मा गांधी की भूमिका रजीत कपूर ने निभाई थी जिसके लिए उन्हें नेशनल अवार्ड भी मिला था।
हे राम
हे राम
'हे राम' (2000)- भारत के विभाजन और महात्मा गांधी की हत्या पर आधारित इस फिल्म का निर्देशन कमल हासन ने किया था। फिल्म को ऑस्कर के लिए नॉमिनेट किया था। ये ऑस्कर भले ही ना जीत पाई हो पर कई श्रेणियों में फिल्म को नेशनल अवार्ड मिले थे।
डॉ. बाबा साहब अंबेडकर
डॉ. बाबा साहब अंबेडकर
'डॉ. बाबा साहब अंबेडकर' (2000)- डॉ. भीमराव आंबेडकर के जीवन पर आधारित इस फिल्म में महात्मा गांधी के विचारों को दिखाया गया है। यह फिल्म पूरे भारत में रिलीज नहीं की गई थी। फिल्म में मोहन गोखले ने गांधी जी का किरदार निभाया था। फिल्म का निर्देशन जब्बर पटेल ने किया था।
द लीजेंड ऑफ भगत सिंह
द लीजेंड ऑफ भगत सिंह
'द लीजेंड ऑफ भगत सिंह' (2000)- आजादी की जंग लड़ने वाले भगत सिंह के जीवन पर आधारित इस फिल्म का निर्देशन राजकुमार संतोषी ने किया था। फिल्म में भगत सिंह को गांधी जी से प्रेरित और विचारों में मतभेद होने के चलते अलग होने के पीछे की कहानी को बखूबी दिखाया गया। फिल्म में गांधी का किरदार सुरेंद्र रंजन ने निभाया था।
मैंने गांधी को नहीं मारा
मैंने गांधी को नहीं मारा
'मैंने गांधी को नहीं मारा'(2005)- इस फिल्म की मुख्य भूमिका नें अनुपम खेल और उर्मिला मातोंडकर थे। फिल्म में अनुपम खेर को एक ऐसी मनोस्थिति का व्यक्ति दिखाया गया जिसे वहम हो जाता है कि उसने गांधी की हत्या की हैं। फिल्म को आलोचकों ने बहुत पंसद किया है। जहनु बरुआ निर्देशित इस फिल्म को बेस्ट एक्ट्रेस, स्पेशल जूरी अवार्ड, नेशनल फिल्म अवार्ड मिला था।
लगे रहो मुन्नाभाई
लगे रहो मुन्नाभाई
'लगे रहो मुन्नाभाई' (2006)- एक सकड़छाप की भूमिका निभाने वाले संजय दत्त को फिल्म में महात्मा गांधी दिखने लगते हैं। जिसके बाद वह लोगों को गांधीगिरी का पाठ पढ़ाने लगते हैं। फिल्म में गांधी जी का किरदार दिलीप प्रभावलकर ने निभाया था। फिल्म का निर्देशन राजकुमार हिरानी ने किया था।
गांधी माइ फादर
गांधी माइ फादर
'गांधी माइ फादर' (2007)- महात्मा गांधी और उनके बड़े बेटे हरिलाल गांधी के संबंधों के इर्द गिर्द घूमती इस फिल्म को फिरोज अब्बास मस्तान ने निर्देशित किया था। फिल्म में गांधी का किरदार दर्शन जरीवाला ने निभाया था जिसके लिए उन्हें नेशनल अवार्ड भी मिला था।
रोड टू संगम
रोड टू संगम
'रोड टू संगम' (2010)- इस फिल्म में महात्मा गांधी की अस्थियों को त्रिवेणी संगम ले जाने वाली एक पुरानी फोर्ड वी8 इंजन कार को रिपेयर करने वाले मुस्लिम मैकेनिक की कहानी दिखाई गई हैं। इस दौरान गांधी के उसूलों के आज के दौर में मायनों को भी दिखाया गया। फिल्म का निर्देशन अमित राय ने किया था।

Live Scorecard

न्यूज़ फीचर

मुख्य खबरें

वीडियो