Exit Poll 2018 MP: इन 8 स्‍लाइडों में जानें क्‍या कहता है Madhya Pradesh का Exit Poll, जनता की पसंद-नापसंद, सबकुछ एक जगह

Updated On : December 07, 2018 08:05 PM
मध्‍य प्रदेश के मतदाता 28 नवंबर को मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह समेत करीब 2800 उम्‍मीदवारों के भाग्‍य का फैसला कर चुके हैं.

मध्‍य प्रदेश के मतदाता 28 नवंबर को मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह समेत करीब 2800 उम्‍मीदवारों के भाग्‍य का फैसला कर चुके हैं.

मध्‍य प्रदेश के मतदाता 28 नवंबर को मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह समेत करीब 2800 उम्‍मीदवारों के भाग्‍य का फैसला कर चुके हैं. 28 नवंबर को सभी 230 सीटों पर चुनाव हुए और करीब 76 फीसद वोटिंग हुई. आगे की तस्‍वीरों में देखें क्‍या कहता है NEWS Nation का एग्‍जिट पोल...
प्रदेश की 230 विधानसभा सीटों पर 28 नवंबर को करीब 76 % वोटिंग हुई.

प्रदेश की 230 विधानसभा सीटों पर 28 नवंबर को करीब 76 % वोटिंग हुई.

प्रदेश की 230 विधानसभा सीटों पर 28 नवंबर को करीब 76 % वोटिंग हुई. राज्य में 61 साल में रिकॉर्ड मतदान (Voting) हुआ. यह 2013 के चुनाव परिणाम से (72.18%) से 4 फीसद ज्यादा है. और यही 4 फीसद ज्‍यादा वोटिंग हुई.
एग्‍जिट पोल (Exit Poll 2018) में 23 फीसद लोगों ने बेरोजगारी को बड़ा मुद्दा माना है

एग्‍जिट पोल (Exit Poll 2018) में 23 फीसद लोगों ने बेरोजगारी को बड़ा मुद्दा माना है

एग्‍जिट पोल (Exit Poll 2018) में 23 फीसद लोगों ने बेरोजगारी को बड़ा मुद्दा माना है जबकि किसानों की समस्‍याओं को 13 फीसद लोगों ने चुनावी मुद्दा माना. महंगाई को जहां 10 फीसद लोगों ने बड़ी समस्‍या बताया वहीं एससी-एसटी एक्‍ट को केवल 7 फीसद लोगों ने मुद्दे के रूप में देखा. सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि जिस राफेल को राहुल गांधी हर सभा में बड़े मुद्दे रूप में उठाते रहे उसे जनता ने तरजीह नही दी.
Exit Poll 2018: अगले CM के रूप में 43% जनता अभी शिवराज सिंह चौहान को ही देखना चाहती है.

Exit Poll 2018: अगले CM के रूप में 43% जनता अभी शिवराज सिंह चौहान को ही देखना चाहती है.

Exit Poll 2018: अगले CM के रूप में 43% जनता अभी शिवराज सिंह चौहान को ही देखना चाहती है. वहीं 29 फीसद जनता ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया को लोग CM के रूप में देखना चाहती है. कमलनाथ को सिर्फ 10 फीसद लोग CM के रूप में देखना चाहते हैं.
किस दिग्‍गज के प्रचार का कितना रहा असर

किस दिग्‍गज के प्रचार का कितना रहा असर

एग्‍जिट पोल (Exit Poll 2018) के बारे में अगर बात करें तो PM नरेंद्र मोदी के प्रचार का असर 34 फीसद रहा तो शिवराज सिंह चौहान की जनसभाओं और संपर्क का असर 16% रहा. वहीं अमित शाह की सभाओं का असर महज 4 फीसद रहा. राहुल गांधी 16 फीसद असरदार रहे तो ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया 20 फीसद.
मध्‍य प्रदेश में इस बार कांग्रेस और बीजेपी के बीच कांटे की टक्‍कर है.

मध्‍य प्रदेश में इस बार कांग्रेस और बीजेपी के बीच कांटे की टक्‍कर है.

मध्‍य प्रदेश में इस बार कांग्रेस और बीजेपी के बीच कांटे की टक्‍कर है. एक्‍जिट पोल के अनुसार इस बार BJP और कांग्रेस के बीच सिर्फ 2 फीसद वोटों का अंतर है. BJP जहां 40 फीसद वोट मिल रहे हैं तो कांग्रेस को 39 फीसद. वहीं अन्‍य को 14 फीसद वोट मिलने के आसार हैं. वहीं NOTA को 7 फीसद वोट मिले हैं.
अहम मुद्दे

अहम मुद्दे

एग्‍जिट पोल (Exit Poll 2018) में 23 फीसद लोगों ने बेरोजगारी को बड़ा मुद्दा माना है जबकि किसानों की समस्‍याओं को 13 फीसद लोगों ने चुनावी मुद्दा माना. महंगाई को जहां 10 फीसद लोगों ने बड़ी समस्‍या बताया वहीं एससी-एसटी एक्‍ट को केवल 7 फीसद लोगों ने मुद्दे के रूप में देखा. सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि जिस राफेल को राहुल गांधी हर सभा में बड़े मुद्दे रूप में उठाते रहे उसे जनता ने तरजीह नही दी.
क्‍या चौथी बार मामा बनेंगे किंग

क्‍या चौथी बार मामा बनेंगे किंग

वोटों में तो कड़ी टक्‍कर मिल रही है लेकिन ये सीटों में नहीं तब्‍दील हो रही. कांग्रेस अभी भी बहुमत से काफी पीछे है. उसे 105 से 109 सीट मिल रही है. जबिक BJP एक बार फिर सरकार बनाती हुई दिख रही है. उसे पिछली बार से कम लेकिन 108 से 112 सीट मिल रही है. जबकि अन्‍य को 11 से 15 सीट मिल रही है.
Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

मुख्य खबरें

वीडियो