अबकी बार किसकी सरकार: तीसरे चरण में सबसे ज्‍यादा VIP उम्‍मीदवार, इन 20 स्‍लाइडों में समझें तीसरे चरण के दिग्‍गजों की सीटों को

Updated On : April 22, 2019 08:23 PM
गांधीनगर में अमित शाह की बैटिंग

गांधीनगर में अमित शाह की बैटिंग

इस बार पार्टी ने यहां से राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को उम्मीदवार बनाया है. वहीं कांग्रेस ने अमित शाह के खिलाफ गांधीनगर सीट से डॉ. सीजे चावड़ा को मैदान उतारा है.
मिस्‍टर भरोसेमंद वायनाड में राहुल गांधी

मिस्‍टर भरोसेमंद वायनाड में राहुल गांधी

इस सीट पर कम्युनिस्ट पार्टी ने पीपी सुनीर को मैदान में उतारा है. राहुल गांधी के साथ इनका सीधा मुकाबला है.
क्‍या पुरी की धुरी बन पाएंगे संबित पात्रा

क्‍या पुरी की धुरी बन पाएंगे संबित पात्रा

संबित पात्रा का इस सीट पर मुकाबला बीजेडी के पिनाकी मिश्रा से है. पिनाकी मिश्रा मौजूदा सांसद हैं और पिछली बार लोकसभा चुनाव में उन्हें सवा पांच लाख से ज्यादा वोट मिले थे. कांग्रेस ने इस सीट से सत्य प्रकाश नायक को टिकट दिया है.
गुलबर्गा में मल्लिकार्जुन खड़गे को चुनौती

गुलबर्गा में मल्लिकार्जुन खड़गे को चुनौती

कर्नाटक की गुलबर्गा सीट से डॉ. उमंग जी जाधव (भारतीय जनता पार्टी), मल्लिकार्जुन खड़गे (कांग्रेस) के बीच सीधा मुकाबला.
चाचा के चक्रव्‍यूह में भतीजा

चाचा के चक्रव्‍यूह में भतीजा

समाजवादी पार्टी के सांसद अक्षय यादव एक बार फिर फिरोजाबाद से अपनी किस्मत आजमा रहे हैं जिनको चुनौती चाचा शिवपाल सिंह यादव से मिल रही है.
महाबली वोटर करेंगे अली और बजरंगबली का फैसला

महाबली वोटर करेंगे अली और बजरंगबली का फैसला

शब्‍दों की लगातार टूट रही मर्यादाओं और नेताओं की फिसलती जुबान के कारण यह सीट चर्चा का केंद्र बन गई है. यहां मुख्य मुकाबला बीजेपी की जयाप्रदा और सपा के आजम खान के बीच है. जबकि कांग्रेस ने संजय कपूर और एमडीपी ने अरसद वारसी पर दांव लगाया है.
मुलायम के गढ़ में बीजेपी के लिए कठोर पिच

मुलायम के गढ़ में बीजेपी के लिए कठोर पिच

समाजवादी पार्टी का गढ़ मैनपुरी लोकसभा सीट पर मुलायम की प्रतिष्ठा दांव पर है तो भारतीय जनता पार्टी इस पूर्व मुख्यमंत्री को आसानी से चुनाव नहीं जीतने देना चाहेगी. 2019 लोकसभा चुनाव के लिए मैनपुरी से 12 उम्मीदवार मैदान में हैं. मुख्य मुकाबला सपा से मुलायम सिंह यादव और बीजेपी के प्रेम सिंह शाक्य के बीच है.
क्‍या बीजेपी तोड़ पाएगी थरूर का गुरूर

क्‍या बीजेपी तोड़ पाएगी थरूर का गुरूर

तिरुवनंतपुरम लोकसभा सीट के बारे में माना जा रहा है कि केरल में बीजेपी का सूखा खत्म होने की शुरुआत इस सीट से ही हो सकती है. यहां से कांग्रेस के दिग्गज और विद्वान नेता शशि थरूर सांसद हैं, लेकिन वह पिछली बार बड़ी मुश्किल से जीत पाए थे. इस बार बीजेपी ने मिजोरम के पूर्व गवर्नर कुम्मनम राजशेखर को उतार दिया है जिससे शशि थरूर के लिए मुकाबला और कड़ा दिख रहा है.
सुप्रिया सुले की हैट्रिक लगेगी या कांचन कुल के हाथ लगेगी बाजी

सुप्रिया सुले की हैट्रिक लगेगी या कांचन कुल के हाथ लगेगी बाजी

शरद पवार बारामती से सात बार सांसद रह चुके हें और एक बार अजित पवार यहां से सांसद रहे हैं. शरद पवार की पुत्री और राकांपा की सुप्रिया सुले तीसरी बार चुनाव मैदान में हैं और उनके विरुद्ध भाजपा ने कांचन कुल को उतारा है.
महबूबा बनेंगी अनंतनाग की मुफ्ती या जीतेगा कोई और

महबूबा बनेंगी अनंतनाग की मुफ्ती या जीतेगा कोई और

इस संसदीय क्षेत्र में पूर्व मुख्यमंत्री मुफ्ती, प्रदेश कांग्रेस प्रमुख जीए मीर, नेकां के हसनैन मसूदी और भाजपा के सोफी मोहम्मद यु़सूफ समेत 20 उम्मीदवार अपना भाग्य आजमा रहे हैं
बाहुबली पत्नी ठोक रहीं ताल, क्‍या द‍िलेश्वर दिखाएंगे कमाल

बाहुबली पत्नी ठोक रहीं ताल, क्‍या द‍िलेश्वर दिखाएंगे कमाल

कांग्रेस की प्रवक्ता और बाहुबली पप्पू यादव की पत्नी रंजीत रंजन सुपौल व जेडीयू से द‍िलेश्वर कमैत एक बार आमने-सामने हैं. इस बार कांग्रेस और जेडीयू के बीच कांटे का मुकाबला है.
पिता के नाम को भुना पाएंगे येदियुरप्पा के बेटे बी.वाई. राघवेंद्र ?

पिता के नाम को भुना पाएंगे येदियुरप्पा के बेटे बी.वाई. राघवेंद्र ?

येदियुरप्पा के बेटे बी.वाई. राघवेंद्र दोबारा चुनावी मैदान में हैं. बीवाय राघवेंद्र (भारतीय जनता पार्टी), एस मधुबांगरप्पा (जनता दल सेक्युलर)), गुडप्पा (बहुजन समाज पार्टी), वेंकेटेश आर (उत्तमा प्रजाकिय पार्टी), कृष्णा के (पिरामिड पार्टी ऑफ इंडिया) शामिल हैं.
पीलीभीत बोले तो दूसरे गांधी परिवार की 'अमेठी'

पीलीभीत बोले तो दूसरे गांधी परिवार की 'अमेठी'

मुख्य मुकाबला बीजेपी के वरुण गांधी, समाजवादी पार्टी के हेमराज वर्मा और जनता दल यूनाइटेड के डॉक्टर भरत के बीच है.
अल्फोंस की फांस में क्‍या फंसेंगे जीतने भर के वोट

अल्फोंस की फांस में क्‍या फंसेंगे जीतने भर के वोट

केरल की इस सीट से 13 उम्मीदवार मैदान में हैं. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने मौजूदा केंद्रीय मंत्री अल्फोंस कन्नाथनन को टिकट दिया है. बहुजन समाज पार्टी ने पीए नियामाथुल्ला, माकपा ने पी. राजीव, कांग्रेस ने हीबी इडेन, समाजवादी फॉरवर्ड ब्लॉक ने अब्दुल खादेर वाझाक्काला, सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ने वीएम फैजल और राष्ट्रीय समाज पक्ष ने विवेक के विजयन को टिकट दिया है. इसके अलावा चार निर्दलीय उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं.
शरद यादव और बाहुबली पप्‍पू यादव की साख दांव पर

शरद यादव और बाहुबली पप्‍पू यादव की साख दांव पर

मधेपुरा लोकसभा सीट पर इस बार जन अध‍िकार पार्टी (लोकतांत्रिक) के पप्पू यादव उर्फ राजेश रंजन और जेडीयू के द‍िनेश चंद्र यादव में कांटे का मुकाबला है. कभी जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे शरद यादव इस बार आरजेडी से चुनावी मैदान में हैं.
धुबरी लोकसभा सीट पर इस बार रोमांचक मुकाबले के आसार

धुबरी लोकसभा सीट पर इस बार रोमांचक मुकाबले के आसार

असम की धुबरी लोकसभा सीट पर इस बार रोमांचक मुकाबले के आसार हैं. ऑल इंड‍िया युनाइटेड डेमोक्रेट‍िक फ्रंट (एआईयूडीएफ) के बदरुद्दीन अजमल फ‍िर से चुनाव लड़ रहे हैं. इनका सामना कांग्रेस के अबू ताहेर बेपारी से हो रहा है. प‍िछले चुनाव में बीजेपी यहां से तीसरे नंबर पर रही थी. इस बार बीजेपी असम में असम गण पर‍िषद (AGP)और बोडोलैंड पीपुल्स ऑफ फ्रंट (BPF)के साथ चुनावी मैदान में है.
हाथ का साथ छोड़ मौसम क्‍या दीदी के चेहरे पर ला पाएंगी नूर

हाथ का साथ छोड़ मौसम क्‍या दीदी के चेहरे पर ला पाएंगी नूर

कांग्रेस सांसद मौसम नूर टीएमसी में शामिल हुईं तेा ममता बनर्जी ने उन्हें मालदा उत्तर से टीएमसी से उतार दिया. कांग्रेस ने इस सीट से इशा खान चौधरी को टिकट दिया है. भारतीय जनता पार्टी ने इस सीट से खगेन मुर्मू को कैंडिडेट बनाया है, जबकि सीपीएम ने विश्वनाथ घोष को टिकट दिया है.
बीजेपी-बीजेडी के बीच कांटे की टक्कर में कटक कहीं कांग्रेस को न जाए अटक

बीजेपी-बीजेडी के बीच कांटे की टक्कर में कटक कहीं कांग्रेस को न जाए अटक

इस बार इस सीट पर बीजेपी-बीजेडी के बीच कांटे की टक्कर है. पिछले चुनाव में कांग्रेस इस सीट पर दूसरे नंबर पर रही थी. बीजेडी इस सीट पर एक बार फिर से भर्तृहरि महताब को लेकर मैदान-ए-जंग में आई है.
पूर्व IPS और पूर्व IAS की लड़ाई, खाकी के बाद अब खादी पर जोर

पूर्व IPS और पूर्व IAS की लड़ाई, खाकी के बाद अब खादी पर जोर

भारतीय प्रशासनिक सेवा और भारतीय पुलिस सेवा के दो पूर्व ऑफिसर मैदान में आमने-सामने हैं. बीजेपी ने इस सीट से पूर्व आईएएस अपराजिता सारंगी को टिकट दिया है. अपराजिता सारंगी भुवनेश्वर महानगर पालिका की आयुक्त रह चुकी हैं. बीजेडी ने मौजूदा सांसद प्रसन्न कुमार पटसानी का टिकट काट दिया और मुंबई पुलिस के पूर्व आयुक्त अरुप पटनायक को अपना कैंडिडेट बनाया है.
आणंद में सीधा मुकाबला

आणंद में सीधा मुकाबला

आणंद में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और कांग्रेस के बीच सीधा मुकाबला है. बीजेपी ने यहां से मितेश रमेशभाई पटेल को टिकट दिया है, जबकि कांग्रेस की ओर से भरतभाई माधव सिंह सोलंकी मैदान में हैं. वहीं बहुजन समाज पार्टी ने वंकर रमेशभाई वल्जीभाई को प्रत्याशी बनाया है.
Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

मुख्य खबरें

वीडियो