BREAKING NEWS
  • Pulwama Terror Attack: भारत ने मीरवाइज उमर फारुख सहित 5 अलगाववादी नेताओं की सुरक्षा छिनी- Read More »
  • मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामला : सीएम नीतीश कुमार के खिलाफ सीबीआई जांच की खबर गलत- Read More »
  • कश्‍मीरियों से गलत व्‍यवहार की शिकायत, विरोध में आज कश्‍मीर बंद - Read More »

#BirthdaySpecial अब्दुल कलाम साब की वो बातें जो युवाओं को देती हैं प्रेरणा

Updated On : October 15, 2017 12:43 PM
कलाम

कलाम

सभी देशवासियों के दिलों पर राज करने वाले भारतरत्न मिसाइलमैन के नाम से लोकप्रिय पूर्व राष्ट्रपति डा. एपीजे अब्दुल कलाम का आज 86वां जन्मदिन हैं। भारत के दक्षिणी राज्य तमिलनाडु के रामेश्वर में पैदा हुए एपीजे अब्दुल कलाम का पूरा नाम अवुल पाकिर जैनुलाब्दीन अब्दुल कलाम था।
ऊंचे सपने देखना

ऊंचे सपने देखना

डा़ कलाम हमेशा युवाओं से ऊंचे सपने देखने की बात कहा करते थे। वे कहा करते थे कि ऐसे सपने देखो कि वे जब तक पूरे न हो जाएं तब तक आप को नींद न आए।
छात्र दिवस

छात्र दिवस

छात्रों और शिक्षा के प्रति उनके जूनून और योगदान को देखते हुए ही आज का दिन पूरी दुनिया में विश्व 'छात्र दिवस' के तौर पर मनाया जाता है।
युवा पीढ़ी ही देश की पूंजी

युवा पीढ़ी ही देश की पूंजी

कलाम का मानना था कि युवा पीढ़ी ही देश की पूंजी है। जब बच्चे बड़े हो रहे होते हैं तो उनके आदर्श उस काल के सफल व्यक्तित्व ही हो सकते हैं। माता- पिता और प्राथमिक कक्षाओं के अध्यापक आदर्श के रूप में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।
कलाम

कलाम

डा. कलाम देश के पहले ऐसे राष्ट्रपति बने जोकि सोशल मीडिया में लगातार सक्रिय रहते थे और युवाओं तथा नए वैज्ञानिकों एवं बालकों के लिए प्रेरक बातें लिखा करते थे।
बहुमुखी प्रतिभा के धनी

बहुमुखी प्रतिभा के धनी

डा़ कलाम के अंदर कवि, शिक्षक, लेखक, वैज्ञानिक सहित आध्यात्मिक गुण विद्यमान थे। यह उनकी महान प्रतिभा का ही कमाल है कि आज भारत के पास अग्नि, पृथ्वी, त्रिशूल जैसी मिसाइलों का भंडार हो गया है।
देशभक्त

देशभक्त

वह देश के पहले ऐसे राष्ट्रपति बने थे जोकि राजनीति से अलग व बहुत दूर थे। उनकी देशभक्ति व कार्य राजनीति से परे थे। डा़ कलाम के जीवन पर आधारित दो पुस्तकें 'तेजस्वी मन' और फिर 'अग्नि की उड़ान' उनके जीवन का एक खुला दस्तावेज हैं।
कर्मयोगी

कर्मयोगी

डा. कलाम जीवन के अंतिम सांसों तक कार्य करते रहे। वे एक ऐसे कर्मयोगी थे जो जाते-जाते संदेश देकर गए। कलाम ने एक सबल सक्षम भारत का सपना देखा था। वे हमेशा देश को प्रगति के पथ पर ले जाने की बातें किया करते थे।
बच्चों के प्रेरणादायक

बच्चों के प्रेरणादायक

भारतरत्न कलाम का जीवन सदा युवाओं के लिए प्रेरणा का स्रोत बना रहेगा। उनका मानना था बच्चे के बड़े होने पर राजनीति, विज्ञान, प्रौद्योगिकी और उद्योग जगत से जुड़े योग्य तथा विशिष्ट नेता उनके आदर्श बन सकते हैं। कलाम ने ही सर्वप्रथम भारत के लिए अपनी पुस्तक के माध्यम से विजन 2020 प्रस्तुत किया।
Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

मुख्य खबरें

वीडियो