BREAKING NEWS
  • सेना के काफिले की सुरक्षा को लेकर बदले जाएंगे नियम: सीआरपीएफ के डीजी भटनागर- Read More »
  • दुल्हा-दुल्हन ने पेश की देशभक्ति की मिसाल, सड़क पर जिसने भी देखा बोल उठा, जय हिन्द- Read More »
  • Pulwama Attack: पाक के विदेश मंत्री ने कहा- शक था कि चुनाव से पहले भारत में हो सकता है कुछ ऐसा- Read More »

'नमक हराम' में एक्टिंग करने से क्यों डर गए थे रजा मुराद, खलनायक के रूप में बनाई पहचान

Updated On : July 02, 2018 01:01 PM
रजा मुराद (फाइल फोटो)

रजा मुराद (फाइल फोटो)

90 के दशक में खलनायक के तौर पर अपनी अलग पहचान बनाने वाले बॉलीवुड के दिग्गज कलाकार रजा मुराद का जन्म 23 नवंबर 1950 को यूपी के रामपुर में हुआ था। अपनी दमदार आवाज और एक्टिंग से उन्होंने सिर्फ हिंदी में ही नहीं, बल्कि साउथ और भोजपुरी फिल्मों में भी छाप छोड़ी है। आइये इस खास मौके पर जानते हैं उनकी जिंदगी से जुड़ी कुछ खास बातें...
रजा मुराद (फाइल फोटो)

रजा मुराद (फाइल फोटो)

'रामलीला', 'पद्मावत' जैसी तमाम बड़ी फिल्मों का हिस्सा रह चुके एक्टर रजा मुराद फनकार मुराद साहब के बेटे हैं।
रजा मुराद (फाइल फोटो)

रजा मुराद (फाइल फोटो)

रजा मुराद ने ज्यादातर फिल्मों में सपोर्टिंग रोल निभाया है। उन्होंने 'फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया (FTII)' से एक्टिंग सीखी और करीब 200 से ज्यादा फिल्मों में काम किया।
रजा मुराद (फाइल फोटो)

रजा मुराद (फाइल फोटो)

कम लोग ही जानते हैं कि रजा मुराद बॉलीवुड की पॉपुलर एक्ट्रेस जीनत अमान के भाई हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो वह सुपरस्टार रह चुके राजेश खन्ना और अमिताभ बच्चन के साथ एक्टिंग करते वक्त बहुत डरते थे। उनकी पहली फिल्म 'एक नजर' थी, जिसमें अमिताभ बच्चन और जया भादुड़ी थे, लेकिन 'नमक हराम' से रजा को पहचान मिली थी।
रजा मुराद (फाइल फोटो)

रजा मुराद (फाइल फोटो)

2 मई 1882 को रजा मुराद ने समीना से शादी की थी। फिल्मों की बात करें तो उन्होंने 'राम तेरी गंगा मैली', 'मर्द' और 'गंगा की कसम' जैसी कई फिल्मों में काम किया है।
Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

मुख्य खबरें

वीडियो