PICS: मृग्या बैंड की धुन पर थिरका यूथ, संतोष आनंद के साथ गाया 'प्यार का नगमा'

Updated On : Dec 09, 2017 11:33 AM

'मृग्या बैंड' ने मचाई धूम

'मृग्या बैंड' ने मचाई धूम

संगीत की दुनिया में अलग मुकाम हासिल कर चुके 'मृग्या' बैंड ने शुक्रवार की रात को समां बांध दिया। उनकी धुनों पर यूथ जमकर थिरका। वहीं दिल को छू लेने वाले गीत लिखने वाले संतोष आनंद ने एक बार फिर 'प्यार का नगमा' गुनगुनाया।

संतोष आनंद

संतोष आनंद

इंडियन फ्यूजन म्यूजिक बैंड 'मृग्या' ने संतोष आनंद के साथ मिलकर पुराने गीतों को मिलेनियम यूथ के लिए म्यूजिक रिक्रिएट किया।

मृग्या बैंड

मृग्या बैंड

न्यूज नेशन इस 'प्यार का नगमा' का आयोजन किया था।

संतोष आनंद ने भी गुनगुनाया

संतोष आनंद ने भी गुनगुनाया

दो बार फिल्म फेयर अवॉर्ड के विजेता मशहूर गीतकार संतोष आनंद ने ' एक प्यार का नगमा है', 'मैं ना भूलूंगा', 'ओ रब्बा कोई तो बताए', 'जिंदगी की ना टूटे लड़ी' और 'मोहब्बत है ये क्या चीज' जैसे बेहतरीन गाने दिए हैं।

बैंड की धुन पर थिरका यूथ

बैंड की धुन पर थिरका यूथ

'मृग्या' बैंड के प्रशंसक ना सिर्फ देश बल्कि विदेश में भी हैं। ये बैंड ब्ल्यूजस फोक, फंक, लैटिन रॉक और जैज का इंडियान क्लासिक म्यूजिक के साथ फ्यूजन करता है।

शरत चंद्र श्रीवास्तव वायलिन बजाते हुए

शरत चंद्र श्रीवास्तव वायलिन बजाते हुए

इस बैंड को 1999 में बनाया गया है। तीन-चार दोस्तों ने मिलकर इसकी शुरुआत की थी। 18-19 साल बाद यह बैंड दुनियाभर में अपनी पहचान बना चुका है।

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो