SBI ने बदले नोट जमा करने के नियम, जान लें फायदा रहेगा

लोगों को जालसाजी से बचाने के लिए भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने कैश जमा कराने के नियमों में बदलाव कर दिया है।

News State Bureau  |   Updated On : November 16, 2018 04:53 PM
प्रतीकात्‍मक फोटो

प्रतीकात्‍मक फोटो

नई दिल्‍ली:  

लोगों को जालसाजी से बचाने के लिए भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने कैश जमा कराने के नियमों में बदलाव कर दिया है। अब आपके खाते में कोई दूसरा व्‍यक्‍ति पैसे जमा नहीं करा सकता है। नियम इतना सख्‍त है कि आपकी पत्‍नी या पापा भ्‍ाी आपके खाते नकद जमा नहीं कर सकेंगे। नोटबंदी के दौरान इस सुविधा के दुरुप्रयोग होने की शिकायतों के बाद SBI ने यह कदम उठाया है।

ये है नियम
अब आप स्‍वयं अपने खाते में नकद जमा कर सकेंगे। कोई भी दूसरा व्‍यक्‍ति किसी के खाते में नकद जमा नहीं कर सकेगा। हालांकि ऑनलाइन या चेक से जमा पर यह नियम लागू नहीं होगा।

सिर्फ एक तरह से मिलेगी छूट
अगर आप चाहते हैं कि आपके अकाउंट में कोई दूसरा नकद जमा करें तो इसके लिए आपको लिखित में ऐसी अनुमति देनी होगी। इसके लिए जमा पर्ची पर साइन करके देना होगा, जिस पर डिटेल भर कर दूसरा व्‍यक्‍ति आपके खाते में पैसा जमा कर सकेगा।

और पढ़े : 2 लाख रुपए सस्‍ती पड़ेगी कार, लोन भी नहीं लेना होगा

आयकर विभाग की सलाह पर बना है नियम 

नोटबंदी के दौरान कई बैंक खातों में बड़ी संख्या में हजार और पांच सौ नोट जमा किए गए थे। अब जांच के बाद जब लोगों से इतने सारे नोटों के बारे में पूछा जा रहा है तो उनका कहना है कि किसी अनजान शख्स ने उनके बैंक खातों में पैसे जमा करा दिए हैं। उनका उससे कोई लेना-देना नहीं है। ऐसी स्‍थिति में आयकर विभाग ने सरकारी बैंकों से कहा था कि वे ऐसे नियम बनाएं कि कोई दूसरा शख्स किसी के बैंक खाते में नकद रुपए नहीं जमा करा पाए। 

First Published: Tuesday, September 11, 2018 11:15 AM

RELATED TAG: Sbi, Bank, Rules, Deposit, Cash, State Bank Of India, Fraud, Account, Alert,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो