BREAKING NEWS
  • PM Modi Birthday: सीएम योगी की अपील, ये 3 संकल्प लेकर दें नरेंद्र मोदी को उपहार- Read More »
  • Gold Silver Rate Today 17 Sep: सोने-चांदी में बढ़े हुए भाव पर क्या करें निवेशक, आज क्या बनाएं रणनीति, जानें बेहतरीन ट्रेडिंग कॉल्स- Read More »
  • सबसे बड़ा सवाल: क्या इमरान खान, पीएम मोदी को जन्मदिन पर देंगे बधाई?- Read More »

विचार

अन्य खबरें

चुनाव आते ही यूपी-बिहार के लोगों पर क़हर क्यों?

जब संविधान में किसी भारतीय नगारिक को देश में कहीं भी आने-जाने और रहने की आजादी है तो चंद गुंडे राजनीति की रोटी सेंकने क्यों आ जाते हैं.

क्या आप जानते हैं एक लड़की कब-कब और क्यों कहती है #MeToo

एक सवाल यह उठता है कि आखिर एक लड़की को कब #MeToo कहने की जरूरत पड़ती है.

कायम रहेगी डाक विभाग की महत्ता

डाक विभाग दशकों तक देश के अंदर ही नहीं, बल्कि एक देश से दूसरे देश तक सूचना पहुंचाने का सर्वाधिक विश्वसनीय, सुगम और सस्ता साधन रहा है. लेकिन इस क्षेत्र में निजी कंपनियों के बढ़ते दबदबे और फिर सूचना तकनीक के नए माध्यमों के प्रसार के कारण डाक विभाग की भूमिका लगातार कम होती गई है.

कैसे रहे 'स्वच्छ भारत अभियान' के 4 साल?

बेहतर होता विपक्ष विरोध करने से बचता, लेकिन राजनीति में शायद इसकी गुंजाइश नहीं. वैसे 2014 में गंदगी के खिलाफ विपक्ष को छोड़ हर कोई हाथ में झाड़ू लिए नजर आता था, लेकिन अब 4 साल बाद हालात कितने सुधरे हैं, ये समझना भी जरूरी है.

अनुराग दीक्षित का ब्लॉग: आयुष्मान योजना से बदलेगी स्वास्थ्य सुविधा की तस्वीर, चौंकाने वाले हैं आंकड़ें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 'आयुष्मान' स्वास्थ योजना से करीब 50 करोड़ आबादी को लगभग मुफ्त इलाज मिल सकेगा लेकिन क्या इससे बदलेगी तस्वीर.

कहानीः यू छोड़ कर चले जाना जैसे 'आखिरी पेंटिंग'

हॉस्‍पिटल की दीवार से पीठ टिकाए बैठा मैं अपने सामने से गुजरते हर इंसान को देख रहा था.

जब हिंदी के लिए संन्यासिनी को करना पड़ा अनशन!

आज 69वां हिंदी दिवस है. हमारे देश की राजभाषा हिन्दी के बढ़ते दायरे को समझने का ये एक मौका भर है.

योगी आदित्यनाथ के सामने बड़ी चुनौती- अफसरशाही को दुरूस्त करना!

बीते सोमवार योगी सरकार एक बार फिर एक्शन में नजर आई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने साफ साफ कहा कि बोझ बन चुके अफसरों पर सख्त एक्शन लिया जाएगा।

मंगोलपुरी मंगोलिया में नहीं है, मौत उनकी भी है लेकिन मीलार्ड देख तो लीजिये

घर के अंदर बच्चे अपने कामों में लग गए। कुछ देर में ही गली में शोरगुल मच गया। बच्चों ने गली में झांका तो किसी ने चिल्ला कर कहा कि चाकू मार दिया, चाकू मार दिया।

क्या अखिलेश यादव को नुकसान पहुंचाएगी चाचा की राजनीति, जानें 4 महत्‍वपूर्ण फैक्‍टर

विधानसभा चुनाव में समाजवादी धड़ा बूरी तरह से परास्त हो गई। साल 2012 के विधानसभा चुनाव में 224 सीटें जीतने वाली पार्टी 2017 में 47 सीटों पर सिमट गई।

72वां स्वतंत्रता दिवस: 'ये तो नहीं भूलना था दोस्तों'

आजादी की एक लंबी लड़ाई में अपनी कुर्बानी देने वाले शहीदों के परिवारों को यही नसीब हुआ था। सब के सब नेहरू और गांधी जी जैसे परिवारों से नहीं थे।

न्यूज़ फीचर

मुख्य खबरें

वीडियो

फोटो