BREAKING NEWS
  • Mini Surgical Strike: वीके सिंह का पाकिस्तान को जवाब, बोले- कई बार पूंछ सीधी...- Read More »

यमराज, दोषियों को धरती पर वापस भेज दो, अभी और इंसाफ बाकी है

न्‍यूज स्‍टेट ब्‍यूरो  |   Updated On : October 05, 2019 10:01:03 AM
कलकत्‍ता हाई कोर्ट

कलकत्‍ता हाई कोर्ट (Photo Credit : File Photo )

नई दिल्‍ली :  

कलकत्‍ता हाई कोर्ट (Calcutta High Court) में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. हाई कोर्ट (High Court) में याचिका दायर मांग की गई है कि वो यमराज (Yam) को निर्देश दे कि जिन हत्‍या के दोषियों की मौत हो चुकी है, उन्‍हें सजा पूरी करने के लिए धरती पर वापस भेजें. हत्या के मामले में दो दोषियों की सजा बरकरार रखे जाने के बाद दोनों के परिजनों ने कलकत्‍ता हाई कोर्ट में याचिका दायर की है.

यह भी पढ़ें : तख्‍तापलट की आशंकाओं के बीच अब परवेज मुशर्रफ ने बढ़ाईं इमरान खान की मुश्‍किलें

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, परिजनों ने कोर्ट से अपेक्षा की है कि इस बारे में मृत्यु के देवता यमराज को दोषियों को वापस धरती पर भेजने का निर्देश दे. परिजनों ने याचिका में यह भी गुहार लगाई है कि अगर यमराज कोर्ट के आदेशों का पालन नहीं करते हैं तो उनके खिलाफ अवमानना की कार्रवाई की जाए.

कलकत्‍ता हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश टीबीएन राधाकृष्णन से याचिकाकर्ताओं ने अनुरोध किया है कि वह हाई कोर्ट के जून 2016 के आदेश को वापस लें, जिसमें कोर्ट ने 1984 में हुई हत्या के एक मामले में समर और प्रदीप चौधरी को अलीपुर सत्र अदालत द्वारा सुनाई गई पांच साल की सजा बरकरार रखी थी, जबकि प्रदीप का 1993 में और समर का 2010 में निधन हो चुका था.

यह भी पढ़ें : राजस्‍थान में सचिन पायलट के तेवर तल्‍ख, कांग्रेस के लिए खड़ी हो सकती है परेशानी

याचिकाकर्ता समर के बेटे अशोक और प्रदीप की पत्नी रेणु ने कोर्ट से अनुरोध किया है कि वह 16 जून, 2016 का आदेश यमराज को भेजें. याचिका में कहा गया है कि कोर्ट यमराज को निर्देश दे कि वह दोषियों को धरती पर वापस भेजे, ताकि वे आत्मसमर्पण कर सकें और कानून के तहत सुनाई गई सजा पूरी कर सकें.

First Published: Oct 05, 2019 10:01:03 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो