फीफा अंडर-17 वर्ल्ड कप: भारत का आखिरी ग्रुप मुकाबला घाना से, हर हाल में जीत जरूरी

यह मुकाबला भारत के लिए किसी भी तरह से आसान नहीं होगा क्योंकि उसे अगर अंतिम-16 में जगह बनानी है तो घाना को बड़े अंतर से हराना होगा।

  |   Updated On : October 12, 2017 10:17 AM
घाना से भारत का मुकाबला

घाना से भारत का मुकाबला

ख़ास बातें
  •  ग्रुप के अपने दोनों मैच हार चुकी है भारतीय टीम
  •  अमेरिका से 3-0 और कोलंबिया से 2-1 से मिली थी हार
  •  अंतिम-16 में जाने के लिए हर हाल में भारत की बड़े अंतर से जीत जरूरी

नई दिल्ली:  

फीफा अंडर-17 वर्ल्ड कप के आखिरी ग्रुप मैच में भारतीय टीम गुरुवार को घाना से भिड़ेगी।

यह मुकाबला भारत के लिए किसी भी तरह से आसान नहीं होगा क्योंकि उसे अगर अंतिम-16 में जगह बनानी है तो घाना को बड़े अंतर से हराना होगा।

पहले दो मुकाबलों में मेजबान टीम को हार का सामना करना पड़ा था। जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में खेले गए पहले मैच में अमेरिका ने भारत को 3-0 से मात दी थी जबकि कोलंबिया ने मेजबान को बेहद संघर्षपूर्ण मुकाबले में 2-1 से मात दी थी।

लगातार दो हार से उसके अंतिम-16 में पहुंचने के समीकरण घाना के खिलाफ होने वाले मैच पर आ कर ठहर गए हैं।

यह भी पढ़ें: आशीष नेहरा एक नवंबर को खेलेंगे अपना आखिरी मैच, आईपीएल को भी कहा अलविदा

अब उसे घाना को बड़े अंतर से मात देने के अलावा उम्मीद करनी होगी की अमेरिका कोलंबिया को बड़े अंतर से हरा दे। अगर दोनों टीमें बराबर अंकों पर ग्रुप दौर की समाप्ति करती हैं तो गोल अंतर को ध्यान में रखते हुए फैसला लिया जाएगा।

कोच लुइस नोर्टन दे माटोस के मार्गदर्शन में खेल रही भारतीय टीम ने अभी तक अपने प्रदर्शन से सभी का दिल जीता है। कोलंबिया के खिलाफ जैक्सन सिंह ने गोल करते हुए अपना नाम इतिहास के पन्नों में लिखवा लिया है।

बहरहाल, भारतीय टीम को कोच माटोस ने मैच से पहले बुधवार को कहा, 'हम जीत से कम कुछ नहीं चाहते हैं। हम विश्व को बताना चाहते हैं कि हम उनके बराबर खड़े हैं और अब हम उन्हें बताना चाहते हैं कि हम जीत भी सकते हैं।'

माटोस ने कहा, 'घाना हमारे लिए शारीरिक चुनौती के अलावा मानसिक चुनौती भी है। वह (घाना) शारीरिक रूप से काफी मजबूत टीम है। अगर हमें उनके खिलाफ जीत हासिल करनी है तो मैच में हर समय तैयार रहना होगा।'

घाना तेज फुटबाल खेलने के लिए जाना जाता है। उसके पास सादिक इब्राहिम और अमिनु मोहम्मद जैसे बेहतरीन खिलाड़ी हैं। कप्तान एरिक अयाह आक्रमण पंक्ति में भारत के लिए खतरनाक साबित हो सकते हैं। इन लोगों को रोकना भारत के लिए कड़ी चुनौती होगा।

यह भी पढ़ें: फुटबाल : भारत ने मकाऊ को 4-1 से हराकर एशिया कप में किया क्वालीफाई

इन सभी को रोकने के लिए भारत को बोरिस सिंह, नमित देशपांडे, अनवर अली और संजीव स्टालिन की रक्षापंक्ति को बेहद सचेत रहना होगा।

वहीं, गोलकीपर धीरज सिंह ने पिछले मैच में शानदार प्रदर्शन किया था और इस मैच में भी वह उसे जारी रखने की कोशिश करेंगे। जैक्सन और अमरजीत मिडफील्ड में टीम की जिम्मेदारी संभालेंगे। इन दोनों के अलावा अभिजीत सरकार और राहुल कनानोली तथा कोमल थाटल पर बहुत कुछ निर्भर करेगा।

हालांकि यह अभी तक साफ नहीं है कि माटोस अग्रिमपंक्ति में किसे खिलाएंगे। ऐसी संभावना है कि रहीम अली को अनिकेत जाधव पर तरजीह दी जा सकती है।

यह भी पढ़ें: मॉडर्न दुल्हन के अवतार में कहर ढा रही हैं कैटरीना कैफ, देखें तस्वीरें

First Published: Thursday, October 12, 2017 08:36 AM

RELATED TAG: Fifa U-17 World Cup, India, Ghana, Jln Staduium, Delhi,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो