बैडमिंटन: भारत के लिए आसान नहीं होगी विश्व चैम्पियनशिप की राह

बीडब्ल्यूएफ विश्व चैम्पियनशिप में भारत की उम्मीदों का भार स्टार खिलाड़ी पी वी सिंधु, सायना नेहवाल और किदांबी श्रीकांत पर होगा।

  |   Updated On : July 30, 2018 12:15 PM
पी वी सिंधु (फाइल फोटो)

पी वी सिंधु (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

यहां सोमवार से शुरू होने जा रही बीडब्ल्यूएफ विश्व चैम्पियनशिप में भारत की उम्मीदों का भार स्टार खिलाड़ी पी वी सिंधु, सायना नेहवाल और किदांबी श्रीकांत पर होगा।

भारतीय खिलाड़ियों पर वर्ल्ड चैम्पियनशिप में खिताब के सूखे को भी खत्म करने का दबाव होगा। सायना ने 2015 जबकि सिंधु ने 2017 में रजत पदक पर कब्जा किया था। सायना ने 2015 में कांस्य पदक भी जीता था जबकि सिंधु ने 2013 और 2014 में यही पदक हासिल किया था।

इस वर्ष 23 वर्षीय सिंधु का प्रदर्शन मिला-जुला रहा है। वह 2017 के अपने शानदार प्रदर्शन को दोहराने में कामयाब नहीं हो पाई जब उन्होंने बीडब्ल्यूएफ प्रोफेशनल टूर के तीन खिताब अपने नाम किए थे। उन्हें इंडिया ओपन, थाईलैंड ओपन और राष्ट्रमंडल खेलों के फाइनल में हार का सामना करना पड़ा था।

भारत की तीसरी वरीय खिलाड़ी अपने अभियान की शुरुआत फिट्रियानी या लिंडा जेटचिरी के खिलाफ करेंगी। अगर सिंधु इस मैच में बाधा को पार कर पाती हैं तो दक्षिण कोरिया की सुंग जी ह्युन को हराना उनके लिए बड़ी चुनौती होगी। क्वार्टर-फाइनल में सिंधु का सामना मौजूदा विश्व चैम्पियन नोजोमी आकुहारा से हो सकता है।

28 वर्षीय सायना नेहवाल त्अपने पहले मैच में तुर्की की अलीये डेमिरबाग से सामना करेंगी। पहले राउंड के बाद सायना का सामना थाईलैंड की रैचथानोक इंथानोन और स्पेन की कैरोलिना मारिन जैसी शीर्ष स्तरीय खिलाड़ियों से हो सकता है।

मलेशिया के महान खिलाड़ी ली चोंग वेई के टूर्नामेंट से नाम वापस लेने के बाद पांचवी वरीय श्रीकांत टूर्नामेंट में सेमीफाइनल तक का सफर आसानी से तय कर सकते हैं। अपने पहले मैच में वह आयरलैंड के नहाट न्गुयेन से भिड़ेंगे जबकि तीसरे दौर में उनका मुकाबला इंडोनेशिया के जोनाथन क्रिस्टी से हो सकता है।

एच एस प्रणॉय को इस टूर्नामेंट में 11वीं वरीयता दी गई है और पहले दौर में वह आस्ट्रेलिया के अभिनव मनोटा का सामना करेंगे। दूसरे दौर में वह हांगकांग के वोंग विंग की विंसेट से भिड़ सकते हैं, इसके बाद क्वार्टर फाइनल में उन्हें चीन के शी युकी या दिग्गज खिलाड़ी लिन डैन का सामना करना पड़ सकता है।

समीर वर्मा और बी साई प्रणीत को भी शुरुआती दौर में आसान विपक्षी मिलेंगे लेकिन क्वार्टर फाइनल तक पहुंचना इन दोनों खिलाड़ियों के लिए बड़ी चुनौती होगा।

और पढ़ेंः महिला हॉकी विश्व कप: अमेरिका को ड्रॉ पर रोककर भारत प्लेऑफ में पहुंचा

पुरुषों के युगल वर्ग में मनु अत्री और बी सुमिथ रेड्डी अपने पहले मैच में बुल्गारिया के डेनियल निकोलोव और इवान रूसेव से भिड़ेंगे जबकि सात्विकसाईराज रैंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी का सामना ओलम्पिक कांस्य पदक विजेता इंग्लैंड के मार्कस ईलीस और क्रिस लेनग्रिज से हो सकता है।

महिलाओं के युगल वर्ग में अश्विनी पोनप्पा और एन.सिक्की रेड्डी पहले मैच में चीनी ताइपे की चियांग काई-सिन और हुंग सिह हान से भिड़ेंगी। इनके अलावा, संयोगिता घोरपड़े और प्राजक्ता सावंत, कोहू गर्ग और एन बी हजारिका तथा एम जक्कमपुडी और पूरवीशा एस राम की जोड़ी भी भारतीय चुनौती पेश करेगी।

मिश्रित युगल में अश्विनी और सात्विक के अलावा प्रणव जेरी चोपड़ा और सिक्की की जोड़ी भारत की ओर से कोर्ट में उतरेगी।

सभी राज्यों की खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

First Published: Monday, July 30, 2018 12:09 PM

RELATED TAG: Badminton, India, World Championship, Badminton,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो