BREAKING NEWS
  • ICC World Cup 2019: वर्ल्ड कप में जारी है टीम इंडिया की ओपनिंग जोड़ी का जलवा, बैटिंग एवरेज में हैं Top पर- Read More »
  • Sensex Today: शेयर बाजार में कमजोरी, सेंसेक्स 70 प्वाइंट गिरकर खुला, निफ्टी 11,650 के नीचे- Read More »
  • Rupee Open Today: डॉलर के मुकाबले रुपया 20 पैसे मजबूती के साथ खुला, US फेड ने ब्याज दरें स्थिर रखीं- Read More »

सरकारी बैंकों के मर्जर से इन बैंकों के ग्राहकों को होगी ये परेशानियां

News State Bureau  |   Updated On : June 12, 2019 06:28 AM
फाइल फोटो

फाइल फोटो

ख़ास बातें

  •  विलय के बाद खाता धारकों के लिए कागजी कार्रवाई जरूर बढ़ जाएगी
  •  खाताधारकों को नए चेकबुक और पासबुक (Passbook) बनवाने पड़ेंगे
  •  बैंक अकाउंट होल्डर को KYC को फिर से प्रोसेस करना पड़ जाता है

नई दिल्ली:  

बैंक ऑफ महाराष्ट्र और इलाहाबाद बैंक का पंजाब नेशनल बैंक (PNB) में विलय और ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स, आंध्र बैंक, यूनियन बैंक का बैंक ऑफ इंडिया (BoI) में विलय (Merger) से मौजूदा अकाउंट होल्डर (Account holder) को बहुत ज्यादा असर नहीं पड़ेगा. हालांकि खाता धारकों के लिए कागजी कार्रवाई जरूर बढ़ जाएगी. गौरतलब है कि बैंक मर्जर से जुड़े जो भी फैसले लेंगे, उसकी जानकारी ग्राहकों को पहले देंगे.

यह भी पढ़ें: बैंक ऑफ महाराष्ट्र और इलाहाबाद बैंक का पंजाब नेशनल बैंक (PNB) में हो सकता है विलय

चेकबुक और पासबुक फिर से जारी करवाना होगा
अगर पंजाब नेशनल बैंक (PNB) में बैंक ऑफ महाराष्ट्र और इलाहाबाद बैंक का विलय होता है तो बैंक ऑफ महाराष्ट्र और इलाहाबाद बैंक के खाताधारकों को नए चेकबुक (Checkbook) और पासबुक (Passbook) बनवाने पड़ेंगे. वहीं दूसरी ओर बैंक ऑफ इंडिया (BoI) में विलय के बाद ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (OBC), आंध्रा बैंक (Andhra Bank) और यूनियन बैंक के ग्राहकों को भी यही प्रक्रिया अपनानी पड़ेगी. हालांकि बैंक इन कामों के लिए ग्राहकों को पर्याप्त समय देगा.

यह भी पढ़ें: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने चीन को दी धमकी, कह दी ये बड़ी बात

एटीएम या डेबिट कार्ड को फिर से जारी कराना पड़ेगा
इस तरह के विलय होने से बैंक के ग्राहकों (Bank customers) का कागजी कार्रवाई (पेपरवर्क) बढ़ जाता है. KYC को फिर से प्रोसेस करना पड़ जाता है. आपका एटीएम या डेबिट कार्ड और पासबुक (ATM & Passbook) फिर से अपडेट (Update) कराना पड़ जाता है. हालांकि बैंकों के विलय (Bank merger) से आपके मौजूदा कर्ज पर कोई असर नहीं पड़ता है. ग्राहकों को पूर्व की ही तरह ब्याज जमा करना पड़ता है. बता दें कि जब किसी बैंक का किसी अन्य बैंक में विलय होता है, तो लोन का पैसा दूसरे बैंक में ट्रांसफर हो जाता है.

First Published: Tuesday, June 11, 2019 02:38 PM

RELATED TAG: Customer In Trouble, Allahabad Bank, Bank Of Maharashtra, Pnb, Punjab National Bank, Bank Of India, Andhra Bank, Latest News, Merger News, Headlines, Business News In Hindi,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटरऔरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो