BREAKING NEWS
  • 74 साल के हुए अजीम प्रेमजी, 53 साल में 12 हजार गुना बढ़ाया विप्रो का कारोबार- Read More »
  • 1 कुत्ता आपको बना सकता है धनवान, सावन में बस आपको करना होगा यह काम- Read More »
  • CBSE 10th Compartment Results: सीबीएसई 10वीं कंपार्टमेंट रिजल्ट घोषित, यहां से करें चेक- Read More »

भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में पांचों आरोपियों को सुप्रीम कोर्ट से राहत नहीं

IANS  |   Updated On : February 13, 2019 03:05 PM

नई दिल्ली:  

नई दिल्ली| सुप्रीम कोर्ट ने भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में नामजद पांचों आरोपियों को बुधवार को कोई राहत नहीं दी. आरोप पत्र दायर करने के लिए और 90 दिनों का अतिरिक्त समय नहीं देने के बंबई हाई कोर्ट के फैसले को भी रद्द कर दिया. बता दें कि गैरकानूनी रोकथाम गतिविधि अधिनियम के तहत एक ट्रायल कोर्ट ने महाराष्ट्र पुलिस को चार्जशीट दाखिल करने के लिए दंड प्रक्रिया संहिता के तहत 90 दिनों की समय सीमा के अलावा और 90 दिनों का अतिरिक्त समय दिया था.

वहीं पांचों आरोपी सुरेंद्र, गाडलिंग, सुधीर धावले, महेश राउत, रोमा विल्सन और सोमा सेन को डिफॉल्ट का लाभ नहीं मिल पाएगा क्योंकि शीर्ष अदालत ने कहा कि उन्हें अब नियमित जमानत के लिए आवेदन करना होगा.

एक जनवरी, 2018 को महाराष्ट्र के भीमा कोरेगांव गांव में जातिगत हिंसा को भड़काने में कथित भूमिका के लिए कार्यकर्ताओं को अगस्त 2018 में विभिन्न स्थानों से गिरफ्तार किया गया था.

First Published: Wednesday, February 13, 2019 03:05 PM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Bhima Koregaon, Bombay High Court, Bhima Koregaon Violation, Supreme Court, Cast Violation, Mumbai, Maharashtra,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

अन्य ख़बरें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो