Chhattisgarh Election: स्ट्रांग रूम परिसर में लैपटॉप सहित 3 धरे गए, 2 सुरक्षाकर्मी निलंबित

छत्तीसगढ़ में पिछले दिनों हुए विधानसभा चुनाव के बाद स्ट्रांग रूम परिसर में शासकीय कर्मचारियों द्वारा लगातार लापरवाही की खबरें सामने आ रही हैं.

INAS  |   Updated On : December 07, 2018 01:34 PM
प्रतिकात्‍मक चित्र

प्रतिकात्‍मक चित्र

रायपुर:  

छत्तीसगढ़ में पिछले दिनों हुए विधानसभा चुनाव के बाद स्ट्रांग रूम परिसर में शासकीय कर्मचारियों द्वारा लगातार लापरवाही की खबरें सामने आ रही हैं. पूर्व में भी धमतरी में तहसीलदार दो अनाधिकृत लोगों के साथ स्ट्रांग रूम परिसर के भीतर पाए गए थे. तो, वहीं गुरुवार शाम तीन लोगों को जगदलपुर के धरमपुरा स्थित स्ट्रांग रूम परिसर में लैपटॉप सहित पकड़ा गया है. इसकी शिकायत जगदलपुर से कांग्रेस प्रत्याशी रेखचंद जैन ने जगदलपुर कोतवाली में की है. पुलिस तीनों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है.

यह भी पढ़ें ः Exit Poll: आज मतदान खत्म होने के तुरंत बाद देखिए News Nation पर विधानसभा चुनावों का एग्जिट पोल

रेखचंद जैन ने शिकायत में बताया है कि महिला पॉलिटेक्निक कॉलेज जिसे चुनाव आयोग ने स्ट्रांग रूम बनाया है. विधानसभा की सारी ईवीएम और वीवीपैट यहां पर रखी गई है, जिसके मतों की गणना 11 दिसंबर को होगी. जैन ने बताया है कि इससे छेड़खानी करने की नियत से तीन लोग, जिन्होंने अपना नाम पूछने पर उमापति तिवारी, विजय सरकार और सूरज मंडावी बताया. तीनों अपने साथ एक लैपटॉप, मोबाइल और अन्य टूल्स रखे हुए थे.जैन ने तीनों के खिलाफ निर्वाचन आयोग के नियमों के उल्लघंन का आरोप लगाते हुए थाना प्रभारी से अपराध दर्ज कराने की मांग की है.

यह भी पढे़ंः Assembly Election 2018: जानिये चुनाव नतीजों के कितने करीब थे 2013 के Exit Poll

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. अय्याज तम्बोली ने बताया कि बस्तर जिले के संभागीय मुख्यालय जगदलपुर के धरमपुरा में स्थित स्ट्रांग रूम में रखे हुए सभी ईवीएम पूरी तरह सुरक्षित हैं. महिला पॉलिटेक्निक परिसर धरमपुरा में प्रथम तल पर स्थापित स्ट्रांग रूम की सुरक्षा व्यवस्था तीन लेयर की है. परिसर के मैदान में कुछ दूरी पर स्थित मोबाइल टॉवर के मेंटेनेंस के लिए तीन कर्मचारी कार्य कर रहे थे. इस कार्य में लापरवाही पाए जाने पर दो सुरक्षाकर्मियों को निलंबित किया गया है. साथ ही वहां पर उपकरणों के साथ मौजूद व्यक्तियों से पुलिस पूछताछ कर रही है.

यह भी पढ़ेंः Chhattisgarh election: इनमें से कोई हो सकता है छत्‍तीसगढ़ का अगला CM, जानें क्‍या है इनकी खासियत

उन्होंने कहा कि दोनों कर्मचारी निजी कंपनी में कार्यरत हैं, जिन्हें परिसर में प्रवेश के लिए अधिकृत नहीं किया गया है. बिना अनुमति इन दोनों व्यक्तियों को परिसर में प्रवेश देकर नियमों का उल्लंघन करने व अपने दायित्व के निर्वहन में लापरवाही बरतने के कारण प्रथम लेयर पर सुरक्षा का कार्य कर रहे दो सुरक्षा कर्मियों आरक्षक इंद्र कुमार पैंकरा और प्रधानारक्षक केशव साहू को निलंबित किया गया है. स्ट्रांग रूम की सुरक्षा केंद्रीय सुरक्षाबल कर रही है. स्ट्रांग रूम पूरी तरह से सुरक्षित है. ईवीएम और वीवीपैट को लैपटॉप से दूर बैठकर टेम्पर करना संभव नहीं है.

यह भी पढ़ेंः जानिए मध्य प्रदेश में क्यों फंसी CM शिवराज सिंह चौहान की कुर्सी, क्या है 4% का चक्कर

पुलिस के अधिकारियों ने तीनों को हिरासत में लेने के बाद लैपटॉप का इंटरनेट प्रोटोकॉल डिटेल रिकॉर्ड, आईपीडीआर कांग्रेसी नेताओं को दिया है. ताकि वे इस आईपीडीआर के माध्यम से लैपटॉप की पूरी जानकारी हासिल कर सकें और ईवीएम की सुरक्षा पर उठ रहे सवालों से निजात पाया जा सके.

First Published: Friday, December 07, 2018 01:34 PM

RELATED TAG: Evm Issue, Chhattisgarh Exit Poll, Exit Poll 2018, Strong Room, 3 Suspects Arrested, Security Personnel Suspended, Congress, Bjp,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो