BREAKING NEWS
  • पीएमसी बैंक घोटाला और अर्थव्‍यवस्‍था की खराब हालत को लेकर कपिल सिब्‍बल ने मोदी सरकार को घेरा- Read More »
  • सिक्‍सर किंग युवराज सिंह का छलका दर्द, बोले- योयो के वक्‍त दादा काश आप बीसीसीआई के बॉस होते- Read More »
  • मिठाई का एक डिब्बा ही बन गया अहम सुराग, कमलेश तिवारी के कातिलों तक ऐसे पहुंची पुलिस- Read More »

Friendship Day 2019: अपनाएं ये खास Tips, हर दिन दोस्ती का रंग होगा गहरा

News State Bureau  |   Updated On : August 04, 2019 08:07:17 AM
Friendship Day 2019

Friendship Day 2019 (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  Friendship Day पर ऐसे बनाए कभी न टूटने वाला रिश्ता.
  •  दोस्ती के रिश्ते में ये खास है कि आप अपना दोस्त कुछ खास है.
  •  दोस्तों से इन टिप्स को अपनाकर बनाएं एक खास रिश्ता. 

नई दिल्ली:  

Dosti/ Friendship: वैसे तो आप किसी रिश्ते जैसे, मम्मी, पापा, बुआ, मौसा-मौसी, मामा, दादा, चाचा etc.. को चुन नहीं सकते या उसमें ये नहीं कह सकते कि मैं इस रिश्ते को नहीं मानता क्योंकि आपके इन रिश्तों के बारे में न मानने से कुछ नहीं होता. जो रिश्ते हैं वो रह ही जाते हैं. लेकिन एक ऐसा इंट्रस्टिंग और बड़ा ही खास रिश्ता भी है जिसे आप खुद चुन भी सकते हैं और उसमें आपको हर वो आज़ादी मिलती है जो कि आप घर के किसी रिश्ते में नहीं मिलती.

जी हां, हर वो आजादी जो आपको चाहिए. उस खास रिश्ते का नाम होता है - दोस्ती (Dosti/Friendship). दोस्तों के साथ आप हर वो बात शेयर कर जाते हैं जो आप किसी घर वाले या अपने किसी रिश्तेदार से नहीं कर पाते हैं.

यह भी पढ़ें: Happy Friendship Day 2019: इस फ्रेंडशिप डे पर दोस्तों को भेजें ये प्यार भरे मैसेज

आज हम जानेंगे कि आप अपने दोस्ती के रंग को और कैसे गहरा कर सकते हैं.

  • कोई भी रिश्ता हो उसमें सबसे पहले एक ट्रस्ट फैक्टर (Trust) या भरोसे का होना जरुरी है. बिना विश्वास के कोई भी रिश्ता नहीं टिक सकता है. तो सबसे पहले ये जान लीजिए कि किसी भी रिश्ते को चलाने की चाभी ट्रस्ट है. अगर दोस्ती में कोई लड़की इनवाल्व हो तो और भी ज्यादा ध्यान देने की जरुरत होती है. कोई भी ऐसा काम न करें जिससे कि सामने वाले को बुरा लगे.
  • दोस्तों के साथ इंसान खुल के बात करता है. चाहे वो सही हो या गलत, सब कुछ जो दिल में होता है वो निकल कर बाहर आ जाता है. तो इस बात का सबसे ज्यादा ख्याल रखना चाहिए कि किसी एक दोस्त की पर्सनल बात कभी भी लीक न हो. जैसे आप दोस्तों के साथ सबसे ज्यादा ओपेन होकर बात कर लेते हैं, उसी तरह उनसे लड़ने का भी पूरा हक आपको होता है. अगर आपका दोस्त गलत राह पर जा रहा है तो उसे रोकने की भी पूरी जिम्मेदारी आपकी होती है.
  • लड़ना भी है जरुरी- अगर किसी भी रिश्ते में थोड़ी बहुत लड़ाई या मीठी नोक-झोंक न हो तो जिंदगी बिल्कुल ही बेजान सी हो जाएगी. तो बिना झिझके लड़ना ना भूलें अपने दोस्तों से.
  • लड़ने के बाद माफ करना - किसी भी इंसान से गलती हो सकती है या यूं कहें कि कुछ ऐसे सिचुएशन होते हैं जहां आप किसी और बात पर कुछ और ही रिएक्शन दे जाते हैं वो भी किसी दूसरे वजह से. साधारण शब्दों में कहें तो - कभी कभी किसी और चीज का गुस्सा किसी दूसरी चीज पर निकल जाता है.
  • इसको एक और तरह से समझते हैं- कभी कभी किसी इंसान की गलती नही होती. हो सकता है कि आपका दोस्त किसी दूसरी बात पर परेशान हो और आपने कुछ कहा और आपके दोस्त ने कुछ और ही रिएक्शन दे दिया. तो इस तरह की सिचुएशन में सामने वाले को समझने की कोशिश करनी चाहिए. माफ करना भी उतना ही इंपा्र्टेंट इसलिए बन जाता है कि किसी खास सिचुएशन में दिए रिएक्शन पर ज्यादा ध्यान नहीं देना चाहिए क्योंकि वो सिचुएशन तो आज नहीं तो कल बदल जाएगी लेकिन हो सकता है कि आपकी दोस्ती में दरार आ जाए. तो माफ करना भी सीखें.

यह भी पढ़ें: Friendship Day 2019: मतलबी यार को पहचानने का इससे बेस्‍ट तरीका कोई हो ही नहीं सकता

  • परेशानी जानने कि कोशिश करें- अगर इस तरह की सिचुएशन सामना करना पड़े तो सबसे पहले प्रॉब्लम की तह तक जाने की कोशिश करें. जानने की कोशिश करें कि किस वजह से ऐसा हो रहा है. हो सकता है कि इसी वक्त में आपके दोस्त को आपकी सबसे ज्यादा जरुरत हो और उसी वक्त आप ऐटीट्यूड दिखा रहे हों. इसलिए सबसे पहले आपको प्रॉब्लम की तह तक जानकारी हासिल करनी चाहिए.
  • झुकना भी है जरुरी- अगर आपसे गलती हुई है तो उसे मानने में कोई बुराई नहीं है.
  • दोनों तरफ से एक बार रिश्ते को नई शुरुआत देने की पूरी कोशिश भी है जरुरी- किसी भी दो दोस्तों के बीच अगर कुछ हो भी जाता है तो सारी बातें भूल कर एक बार फिर से दोस्ती को नई शुरुआत देने की कोशिश करनी चाहिए. क्योंकि फिर वही बात आ जाती है जो ऊपर बताई गई है- हो सकता है कि आपका दोस्त किसी खराब सिचुएशन में रहा हो जिसकी वजह से वो आपके सामने गलत रिएक्ट कर गया हो. इसलिए एक शुरुआत तो बनती है.
  • खुद भी प्रयास करना चाहिए- अगर आपका दोस्त आपसे किसी भी बात पर नाराज हो तो कम से कम एक बार तो आपको खुद से मैटर सॉल्व करने की कोशिश करनी चाहिए.

ये भी कर सकते हैं TRY

  • दोस्तों के साथ घूमने जरुर जाएं. इससे दोस्ती का रिश्ता और भी मजबूत होता है. अगर कहीं बहुत दूर न जा पाएं तो कुछ दूर पैदल ही चल लें.
  • दोस्तो के बीच रुल बनाएं- न आप थैंक्यू या सॉरी बोलें. न आप अपने दोस्त से एक्सपेक्ट करें. इससे चीजें या दो लोगों के बीच अच्छी अंडरस्टैंडिंग डेवलप होती है.
  • फ्री टाइम में अपने खास दोस्तों को फोन जरुर कर लें.

यह भी पढ़ें: Friendship Day 2019 : 100 साल पहले हुई थी फ्रेंडशिप डे मनाने की शुरुआत

  • दोस्त वो होते हैं जो बुरे वक्त पर भी आपका साथ नहीं छोड़ते. इसलिए बुरे वक्त के समय आप भी उनका साथ न छोड़े.
  • अपने दोस्तों के बीच कूल रहें. सबकी मदद करें.
  • अपने दोस्तों की सक्सेस सेलिब्रेट करें, न कि उनसे जलें.
First Published: Aug 04, 2019 08:06:49 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो