मायावती ने बीजेपी-कांग्रेस पर बोला हमला, बोलीं- यूपी-एमपी की सरकारें मचा रहीं 'आतंक'
Thursday, 14 February 2019 11:38 AM

लखनऊ:  

बसपा सुप्रीमो मायावती लगातार विपक्ष पर हमलावर दिख रही है. मायावती ने ट्वीट कर कहा कि मध्यप्रदेश (MP) में कांग्रेस और यूपी (UP) में बीजेपी मुसलमानों के खिलाफ कार्रवाई कर रही है. उन्होंने दोनों पार्टियों की सरकारों को सरकारी आतंक बताया. पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने दोनों राज्यों की सरकारों को जमकर कोसा. उन्होंने कहा कि दोनों पार्टियों की सरकारें एक जैसी हैं. दोनों राज्यों में मुसलमानों के साथ दुर्व्यवहार हो रहा है.

यह भी पढ़ें ः SP-BSP गठबंधन में RLD की एंट्री, 4 सीटों पर चुनाव लड़ेगी RLD

बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट कर कांग्रेस और बीजेपी की सरकार की निंदा की. उन्होंने कमलनाथ सरकार पर सीधे हमला करते हुए कहा कि MP की कांग्रेस सरकार ने पूर्ववर्ती बीजेपी की तरह गोहत्या के शक में मुसलमानों पर रासुका के तहत बर्बर कार्रवाई की, अब UP में बीजेपी सरकार ने AMU विवि के 14 छात्रों पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया है. दोनों पार्टियां सरकारी आतंक हैं और उनकी यह कार्रवाई अति-निन्दनीय है. अब लोग फैसला करे कि दोनों सरकारों में क्या अंतर है?

ये है mp का मामला

गौरतलब है कि mp के आगर मालवा जिले में गो तस्करी के आरोप में गिरफ़्तार दो व्यक्तियों पर पुलिस ने राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) का मुक़दमा दर्ज किया है. कमलनाथ सरकार के इस कदम का चौतरफ़ा विरोध हो रहा है. कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह भी इस फ़ैसले को अनुचित बता चुके हैं. वहीं, कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस पार्टी रासुका के तहत गिरफ़्तारी के मामले में राज्य सरकार के काम में हस्तक्षेप नहीं करेगी. पार्टी का कहना है कि लॉ एंड ऑर्डर देखना राज्य सरकार और पुलिस के अधिकार क्षेत्र में होता है और पार्टी इसमें किसी तरह का अनुचित हस्तक्षेप नहीं करेगी. mP के सीएम कमलनाथ ने कहा कि कानून अपना काम कर रही है. किसी निर्दोष के खिलाफ कार्रवाई नहीं होने दी जाएगी. साथ ही दोषियों को बख्शा भी नहीं जाएगा.

ये है AMU का मामला
अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (AMU) के कुछ छात्रों ने पिछले दिनों भारत के खिलाफ नारेबाजी की थी. इस मामले में योगी सरकार की ओर से 14 छात्रों के खिलाफ राजद्रोह की एफआईआर दर्ज कराई गई थी. इसके बाद यहां के छात्रों ने जमकर बवाल काटा था. पूरे AMU परिसर को छावनी में तब्दील कर दिया गया और इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई थीं.

2019 News Nation Network Private Limited