मनोहर पर्रिकर की बिगड़ती तबियत के बीच बीजेपी विधायकों को गोवा नहीं छोड़ने का आदेश
Sunday, 17 March 2019 12:41 PM

पणजी:  

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर की बिगड़ती तबियत और राज्य में कांग्रेस पार्टी के सरकार बनाने के दावों के बीच सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने अपने सभी विधायकों को गोवा नहीं छोड़ने को कहा है. गोवा बीजेपी महासचिव सदानंद तानावडे ने कहा कि शनिवार को हुई बैठक में सभी विधायकों को राज्य से बाहर नहीं जाने को कहा गया है. शनिवार को कांग्रेस पार्टी द्वारा सरकार बनाने के दावों पर राज्यपाल मृदुला सिन्हा को भेजे गए एक पत्र के बाद बीजेपी ने पणजी में पार्टी मुख्यालय में एक 'आपात बैठक' बुलाई थी.

गोवा के ऊर्जा मंत्री नीलेश कबराल ने कहा कि बीजेपी विधायकों की एक बैठक आज (रविवार) बुलाई गई है. बता दें कि पर्रिकर अग्नाशय के कैंसर से पीड़ित हैं जो एडवांस स्टेज में जा चुका है. पिछले साल फरवरी में पर्रिकर के कैंसर की पुष्टि हुई थी.

कांग्रेस ने शनिवार को राज्यपाल मृदुला सिन्हा को पत्र भेजकर सरकार बनाने का दावा पेश किया था. राज्यपाल को संबोधित पत्र में नेता प्रतिपक्ष चंद्रकांत कावलेकर ने कहा कि पर्रिकर के नेतृत्ववाली सरकार अल्पमत में है और इसके विधायकों की संख्या और घट सकती है.

उन्होंने बीजेपी के नेतृत्व वाले गठबंधन सरकार को बर्खास्त करने और विधानसभा में सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करने की मांग की.

मृदुला सिन्हा को लिखे पत्र में कावलेकर ने कहा, 'प्रसंगवश बीजेपी के दिवंगत विधायक फ्रांसिस डिसूजा की याद आती है, जिन्होंने विनम्रतापूर्वक कहा था कि मनोहर पर्रिकर के नेतृत्ववाली बीजेपी सरकार लोगों का विश्वास पूरी तरह खो चुकी है और अब सदन में भी संख्याबल खो चुकी है.'

और पढ़ें : नरेंद्र मोदी, अमित शाह, अरुण जेटली, पीयूष गोयल समेत सभी BJP के दिग्‍गज बने 'चौकीदार'

कावलेकर ने कहा, 'इसलिए आपका कर्तव्य बनता है कि बीजेपी के नेतृत्ववाली सरकार को बर्खास्त कर यह सुनिश्चित करें कि इस समय सदन में बहुमत रखनेवाली सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस को सरकार गठन के लिए आमंत्रित किया जाए.'

कैंसर से जूझ रहे 63 वर्षीय पर्रिकर लंबे समय से अपने कार्यालय नहीं आ रहे हैं. इस साल 1 जनवरी को वे सचिवालय पहुंचे थे. बीते 1 साल से पर्रिकर गोवा, मुंबई, न्यूयॉर्क और दिल्ली के अस्पतालों से अपना इलाज करा चुके हैं. गंभीर बीमारी के बावजूद पर्रिकर को मुख्यमंत्री पद पर बनाए रखने के कारण कांग्रेस पार्टी बीजेपी पर उनके राजनीतिक इस्तेमाल करने का आरोप कई महीनों से लगा रही है.

और पढ़ें : आयुष्मान भारत योजना एक फ्रॉड, मोदी सरकार निजी कंपनियों को पहुंचा रही है फायदा: कांग्रेस

40 सदस्यीय गोवा विधानसभा में अभी 37 विधायक हैं. कांग्रेस 14 विधायकों के साथ राज्य में सबसे बड़ी पार्टी है. बीजेपी के पास पर्रिकर सहित 13 विधायक हैं और राज्य सरकार को गोवा फॉरवर्ड पार्टी, महाराष्ट्र गोमांतक पार्टी के तीन-तीन और 3 स्वतंत्र उम्मीदवारों का समर्थन मिला हुआ है. कांग्रेस के दो विधायकों ने बीजेपी में शामिल होने के बाद इस्तीफा दे दिया था.

2018 News Nation Network Private Limited