UP: कांग्रेस ने दिखाई दरियादिली, सपा-बसपा-आरएलडी के लिए छोड़ी इतनी सीटें
Sunday, 17 March 2019 03:24 PM

नई दिल्‍ली:  

लोकसभा चुनाव 2019 का बिगुल फुंकने के बाद लगभग सभी राजनीतिक दल अपनी-अपनी गोटी सेट करने में लगे हैं. NDA के खिलाफ जहां महागठबंधन कहीं बनते-बनते बिगड़ रहा है तो वहीं उत्‍तर प्रदेश में कांग्रेस ने बड़ा दिल दिखाते हुए सपा-बसपा और आरएलडी के लिए 7 सीटें छोड़ने का ऐलान किया है. कांग्रेस के प्रदेश अध्‍यक्ष एक संवाददाता सम्‍मेलन को संबोधित करते हुए इसकी जानकारी दी.

यह भी पढ़ेंः बीजेपी के एक बड़े नेता का बयान, जानिये प्रधानमंत्री पद के लिए मायावती को क्यों बताया बेहतर

कांग्रेस के प्रदेश अध्‍यक्ष राज बब्‍बर ने कहा कि हम धन्यवाद देते हैं कि हमारी विचारधारा का सम्मान करते हुए गठबंधन ने हमारे लिए 2 सीट छोड़ी, अमेठी और रायबरेली छोड़ने के गठबंधन के फैसले के बाद अब कांग्रेस ने सपा-बसपा-आरएलडी गठबंधन के लिए यूपी में 7 सीट छोड़ने का एलान किया है.  सपा के लिए मैनपुरी, कन्नौज, फिरोजाबाद, मायावती के लिए जहां से भी चुनाव लड़ती है वो सीट छोड़ी जाएगी, RLD के लिए अजित सिंह और जयंत चौधरी की सीट पर कांग्रेस उम्मीदवार नहीं उतारेगी.  राज बब्बर ने अखिलेश यादव के आजमगढ़ से लड़ने पर उनके खिलाफ उम्मीदवार न उतारने की बात कही.

यह भी पढ़ेंः तेजस्वी यादव के ट्वीट से कांग्रेस खफा, बिहार में मुश्‍किल हुई महागठबंधन की राह

कांग्रेस ने जन अधिकार पार्टी के साथ गठबंधन का एलान करते हुए कहा कि यूपी में 7 सीटों का समझौता हुआ है. 5 सीट जन अधिकार पार्टी के सिंबल पर और 2 सीट जातीय समीकरण को देखते हुए कांग्रेस के सिंबल पर लड़ेंगे. झांसी, चंदौली, एटा, बस्ती और एक और सीट जन अधिकार पार्टी अपने सिंबल लड़ेगी.

यह भी पढ़ेंः नरेंद्र मोदी, अमित शाह, अरुण जेटली, पीयूष गोयल समेत सभी BJP के दिग्‍गज बने 'चौकीदार'

गाजीपुर के अलावा एक और सीट कांग्रेस अपने सिंबल पर जन अधिकार पार्टी के गठबंधन में लड़ेगी. महान दल के साथ समझौते में तय हुआ है कि वो विधानसभा चुनाव हमारे साथ लड़ना चाहते है, विधानसभा के लिए उन्होनें अपनी सीटों की संख्या बता दी है, लोकसभा में हम उन्हें जो सीट देंगे वो उस पर तैयार है.

2018 News Nation Network Private Limited