सिर्फ 13 साल चली थी इफ्तिखार अली खान पटौदी की शादी, भारत के साथ-साथ इस देश के लिए भी खेला था क्रिकेट
Saturday, 16 March 2019 09:03 AM

नई दिल्ली:  

भारत (Team India) के पूर्व क्रिकेटर (Former Cricketer), पटौदी के 8वें नवाब और सैफ अली खान (Saif Ali Khan) के दादा इफ्तिखार अली खान पटौदी (Iftikhar Ali Khan Pataudi) आज ही के दिन 1910 में जन्म लिए थे. इफ्तिखार का जन्म पटौदी में हुआ था, उन्होंने साल 1946 में इंग्लैंड (England) दौरे के लिए भारतीय टीम की कप्तानी की थी. इफ्तिखार अली खान ने भारत के साथ-साथ इंग्लैंड के लिए भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेला था. उन्होंने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत इंग्लैंड टीम के साथ की थी. पटौदी ने 2 दिसंबर 1932 को इंग्लैंड के लिए डेब्यू किया और ऑस्ट्रेलिया (Australia) के खिलाफ पहला मैच खेला. 14 साल के कुल क्रिकेट करियर में उन्होंने केवल 6 ही अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मैच खेले. 6 मैचों में उन्होंने केवल 199 ही रन बनाए थे. खास बात ये है कि उनके कुल 199 रनों में एक शतक भी शामिल था, 102 रन उनका अधिकतम स्कोर था.

ये भी पढ़ें- न्यूजीलैंड की मस्जिदों में हमला के बाद से भारतीय मूल के 9 लोग लापता

अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मैच के अलावा उन्होंने 127 फर्स्ट क्लास क्रिकेट मैच खेले थे. जिसमें उन्होंने 8750 रन बनाए थे. फर्स्ट क्लास क्रिकेट में इफ्तिखार ने 29 शतक और 34 अर्धशतक जड़े थे. यहां उनका अधिकतम स्कोर 238 नॉटआउट था. गेंदबाजी की बात करें तो पटौदी को अंतरराष्ट्रीय मैचों में गेंदबाजी करने का मौका नहीं मिला. लेकिन फर्स्ट क्लास क्रिकेट में उन्होंने गेंदबाजी की थी. जहां उन्होंने 15 विकेट लिए थे, गेंदबाजी में उनका बेस्ट फिगर 6/111 था. इफ्तिखार अली खान ने साल 1939 में सजीदा सुल्तान (Sajida Sultan) से शादी की थी. इफ्तिखार और सजीदा सुल्तान का रिश्ता लंबे समय तक नहीं चल सका. शादी के करीब 13 साल बाद 1952 में दोनों एक-दूसरे से अलग हो गए थे. सजीदा से अलग होने के बाद इफ्तिखार ने दूसरी शादी नहीं की थी. सजीदा ने ही इफ्तिखार के बेटे मंसूर अली खान (Mansoor Ali Khan) को जन्म दिया था.

ये भी पढ़ें- बिहार में नहीं कटेंगे केंद्रीय मंत्रियों के टिकट, जानें किसके खाते में कौन सीट आई

इफ्तिखार अली खान पटौदी के बेटे और सैफ अली खान के पिता मंसूर अली खान पटौदी भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर बने. उन्होंने भारत के लिए 46 टेस्ट मैच खेले थे. हालांकि पटौदी खानदान की दो ही पीढ़ी क्रिकेट खेल पाई, क्योंकि मंसूर अली खान के बेटे सैफ अली खान ने बॉलीवुड में अपना करियर बनाया. इस बारे में कोई पुख्ता जानकारी नहीं है कि सैफ अली खान के बेटों की दिलचस्पी एक्टिंग में है या क्रिकेट में.

2018 News Nation Network Private Limited