यूपी में हुआ दुनिया का सबसे अनोखा क्रिकेट मैच, धोती-कुर्ता पहनकर मैदान में उतरे खिलाड़ी.. संस्कृत में हुई कमेंट्री
Wednesday, 13 February 2019 02:56 PM

वाराणसी:  

18वीं शताब्दी में आस्तित्व में आए क्रिकेट का रंग-रूप पूरी तरह से बदल चुका है. 60 ओवर से शुरू हुआ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट अब 20-20 ओवर का भी होने लगा है. क्रिकेट के तीन प्रमुख फॉर्मेट हैं- टेस्ट क्रिकेट, वनडे क्रिकेट और टी-20 क्रिकेट. इस बात को दोहराने की कोई आवश्यकता नहीं है कि क्रिकेट भारत का सबसे प्रचलित और लोकप्रिय खेल है. हम सभी ने अब तक सैकड़ों क्रिकेट मैच देखे होंगे. लेकिन आज हम आपको क्रिकेट मैच के एक ऐसे स्वरूप के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसके बारे में आपने पहले न कभी सुना होगा और न ही देखा होगा. जी हां, दुनिया का सबसे अनोखा क्रिकेट मैच उत्तर प्रदेश के वाराणसी में खेला गया.

ये भी पढ़ें- प्रियंका गांधी के रोडशो में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के वेश में घूम रहे थे जेबकतरे! 50 लोगों के मोबाइल फोन और पर्स चोरी

बनारस के संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय में खेले गए इस क्रिकेट मैच में खिलाड़ियों ने जर्सी और ट्राउजर के बजाए धोती-कुर्ता पहना था. इतना ही नहीं मैच की कमेंट्री भी संस्कृत भाषा में हो रही थी. मंगलवार को खेले गए इस अनोखे क्रिकेट मैच ने केवल बनारस ही नहीं बल्कि पूरे देश में चर्चाएं बटोरनी शुरू कर दी हैं. विश्वविद्यालय प्रशासन ने संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय की प्लेटिनम जुबली के खास मौके पर इस अनोखे क्रिकेट मैच का आयोजन किया था.

ये भी पढ़ें- अंतरराष्ट्रीय खेलों में जीतने वाले खिलाड़ियों को 5 करोड़ रुपये देगी सरकार, हिस्सा लेने वाले खिलाड़ियों को मिलेगा 1 करोड़

मैच खेल रही पहली टीम ने भगवा रंग का धोती-कुर्ता धारण किया था तो वहीं दूसरी ओर विपक्षी टीम सफेद रंग के धोती-कुर्ता पहन मैदान में उतरी. क्रिकेट मैच में अंपायर ने भी धोती-कुर्ता ही पहन रखा था. मैच में अंपायरिंग कर रहे धीरज मिश्रा और संजीव तिवारी दोनों ही पूर्व रणजी खिलाड़ी रह चुके हैं. हैरान कर देने वाली बात ये रही कि धोती-कुर्ता पहनने के बावजूद किसी भी खिलाड़ी को क्रिकेट खेलने में कोई समस्या नहीं हुई.

2018 News Nation Network Private Limited