BREAKING NEWS
  • बीजेपी उम्मीदवार ने पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को दी शिकस्त, 339096 वोट से हारे- Read More »
  • पीएम मोदी 4.75 लाख मतों से जीते, बोले- फकीर की झोली फिर से भर दिया- Read More »
  • पीएम मोदी 4.75 लाख मतों से जीते, बोले- फकीर की झोली फिर से भर दिया- Read More »

जम्मू-कश्मीर : रमजान के बाद जून में हो सकते हैं विधानसभा चुनाव

News State Bureau  |   Updated On : March 16, 2019 11:29 AM
ईवीएम (फाइल फोटो)

ईवीएम (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

जम्‍मू कश्‍मीर में विधानसभा चुनाव जून में रमजान के बाद कराए जा सकते हैं. चुनाव आयोग के सूत्रों के अनुसार, 4 जून के बाद राज्‍य में विधानसभा चुनाव हो सकते हैं. रिपब्‍लिक टीवी की खबर के अनुसार, चुनाव रमजान बाद और अमरनाथ यात्रा से पहले संपन्‍न होंगे. राज्‍य में 6 से 8 चरण में चुनाव कराए जा सकते हैं. इसका मतलब यह हुआ कि 5 जून से 30 जून के बीच राज्‍य में विधानसभा चुनाव संभव हैं.

यह भी पढ़ें ः ...तो क्या GST को 'गब्बर सिंह टैक्स' नहीं मान रहे पूर्व पीएम मनमोहन सिंह

लोस चुनाव के साथ विधानसभा चुनाव की घोषणा क्‍यों नहीं?
मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त सुनील अरोड़ा ने कहा था- जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव हाल की हिंसात्मक घटनाओं और अन्य कारणों के चलते एक साथ (लोकसभा चुनाव के साथ) नहीं कराए जा सकते. लोकसभा चुनाव की घोषणा के समय अरोड़ा ने कहा था, 'आयोग राज्य के हालात के बारे में लगातार इनपुट ले रहा है. उम्मीदवारों की सुरक्षा और निष्‍पक्ष चुनाव के लिए सुरक्षाबलों की जरूरतों और अन्य चुनौतियों को देखते हुए चुनाव आयोग ने जम्मू-कश्मीर में सिर्फ लोकसभा चुनाव कराने का निर्णय लिया.

यह भी पढ़ें ः 1957 से लोकसभा चुनाव लड़ रहा खीरी का ये परिवार, 10 बार बने सांसद, अब तीसरी पीढ़ी मैदान में

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा था कि चुनाव आयोग ने जम्मू-कश्मीर के लिए तीन विशेष पर्यवेक्षक नियुक्त कर अधिक प्रभावी निगरानी करने का निर्णय लिया है. आयोग जम्मू-कश्मीर में नियमित और वास्तविक समयानुसार स्थिति की मॉनिटरिंग करेगी और विधानसभा चुनाव जल्द कराने के लिए सभी जरूरी जानकारियां लगातार लेता रहेगा. पर्यवेक्षकों में अमरजीत सिंह गिल (पूर्व डीजी, सीआरपीएफ, आईपीएस 1972 बैच), नूर मोहम्मद (आईएएस 1977) और विनोद जुत्शी (आईएएस 1982) शामिल हैं.

यह भी पढ़ें ः कांग्रेस के इस दिग्गज नेता की हत्या, 4 दिन पहले ही BSP छोड़ राहुल गांधी की पार्टी में हुए थे शामिल

लोकसभा चुनाव के साथ विधानसभा चुनाव की घोषणा न होने पर राज्‍य के राजनीतिक दलों ने जबर्दस्‍त प्रतिक्रिया जाहिर की थी. नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्‍दुल्‍ला और पीडीपी अध्‍यक्ष महबूबा मुफ्ती ने सवाल उठाए थे कि अगर राज्‍य में लोकसभा चुनाव कराए जा सकते हैं तो विधानसभा चुनाव क्‍यों नहीं.

First Published: Saturday, March 16, 2019 11:09 AM

RELATED TAG: Jammu Kashmir Assembly Election Likely To Held After Ramadan In June, Ramjan,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटरऔरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो