BREAKING NEWS
  • सैलरी लेने गई महिला को महिला ठेकेदार ने ही बेच दिया, फिर जो हुआ वो...- Read More »
  • आज है जीएसटी काउंसिल (GST Council) की बैठक, आम आदमी के लिए कई चीजें हो सकती हैं सस्ती- Read More »
  • अमेरिका के राष्‍ट्रपति भवन व्‍हाइट हाउस के बाहर अंधाधुंध फायरिंग, कई लोगों के मारे जाने की खबर - Read More »

घाटी में अफवाह फैलाने वालों की अब खैर नहीं, जारी किए गए कई हेल्पलाइन नंबर

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : August 19, 2019 11:12:22 PM
फाइल फोटो

फाइल फोटो

ख़ास बातें

  •  जम्मू-कश्मीर पुलिस ने अफवाह फैलाने वालों पर शिकंजा कसना शुरू किया
  •  आम लोगों से अफवाह फैलाने वालों की जानकारी देने की अपील की
  •  जनता के लिए जारी किए गए हेल्प लाइन नंबर 

नई दिल्ली:  

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा व्यवस्था और शांति का माहौल बनाने के लिए मोदी सरकार हर कदम उठा रही है. अनुच्छेद 370 हटने के बाद घाटी में वैसे शांति व्यवस्था कायम है, लेकिन जिंदगी को सामान्य बनाने की दिशा में तेजी से काम किए जा रहे हैं. घाटी में अफवाह फैला कर माहौल बिगाड़ने वालों पर शिकंजा कसना शुरू हो गया है.

खुफिया एजेंसियों ने ऐसे लोगों की पहचान कर ली है जो राज्य में अफवाहें फैलाकर तनाव पैदा करने की फिराक में हैं. कश्मीर में कई जगहों पर अफवाह फैलाने वालों पर मामला दर्ज किया जा रहा है. अखनूर पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया है और अफवाह फैलाने वाले को गिरफ्तार किया गया है. इसी तरह, राजौरी में दो व्यक्तियों के खिलाफ फेसबुक पर दुर्भावनापूर्ण संदेश फैलाने का मामला दर्ज किया गया है.

इसके साथ ही अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई के लिए जनता से भी अपील की गई है कि अगर उन्हें ऐसे किसी अराजक तत्व के बारे में पता चले तो वो तुरंत नजदीक के पुलिस स्टेशन या पुलिस पोस्ट से संपर्क करें. जिससे ऐसे तत्वों पर तुरंत कार्रवाई की जा सके.

इसे भी पढ़ें:गृह मंत्रालय का बड़ा फैसला, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल अब 60 साल की उम्र में होंगे रिटायर

इसके साथ ही हेल्प लाइन नंबर जारी की गई है, जिसपर कॉल करके अफवाह फैलाने वालों की शिकायत की जा सकती है. 0191-2542001, 2542000, 2560401, 2544581 पर कॉल करके हेल्प मांग सकते हैं. वहीं 2560244 और 100 पर कॉल करके अफवाह फैलाने वालों के बारे में जानकारी दे सकते हैं.

और पढ़ें:पीएम मोदी ने डोनाल्ड ट्रंप से फोन पर की बातचीत, नाम लिए बगैर पाकिस्तान पर साधा निशाना

बता दें कि धारा 370 को हटाने से पहले ही घाटी में भारी सुरक्षाबलों की तैनाती कर दी गई थी. वहां धीरे-धीरे हालात सामान्य होते नजर आ रहे हैं और कुछ इलाकों से कर्फ्यू हटा दिया गया है. इसके साथ ही स्कूलों को खोलने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. कई इलाकों में जरूरी सामान की होम डिलीवरी की जा रही है. वहीं पीडीपी, नेशनल कॉन्फ्रेंस और कांग्रेस के नेताओं को नजरबंद जारी है.

First Published: Aug 19, 2019 11:12:22 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो