तमिलनाडु में CPI-M ने लेनिन की मूर्ति का किया अनावरण, येचुरी ने पीएम मोदी पर साधा निशाना

News State Bureau  |   Updated On : January 23, 2019 12:40:49 PM
व्लादिमीर लेनिन की मूर्ति

व्लादिमीर लेनिन की मूर्ति (Photo Credit : )

नई दिल्ली :  

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी- मार्क्सवादी ने मंगलवार को तमिलनाडु के अपने दफ्तर में रुसी क्रांतिकारी व्लादिमीर लेनिन की मूर्ति स्थापित की. पार्टी के महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा कि लेनिन एक महान नेता थे और उन्होंने पीढ़ियों को प्रेरित किया था. लेनिन की 95वीं पुण्यतिथि पर 12 फी़ट की मूर्ति को स्थापित किया गया. इस मौके पर येचुरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, 'बीजेपी को सत्ता से बाहर करने के बाद ही देश को बचाया जा सकता है.' पीएम मोदी को बाहर करने के लिए मार्कवादी पार्टी ने 'भारत बचाओ' का नारा दिया. उन्होंने कहा, 'पहले हमे भारत को बचाना है और फिर देश में बदलाव लाना है.'

पिछले साल मार्च में दक्षिण त्रिपुरा में दो लेनिन की मूर्ति को तोड़ दिया गया था. बीजेपी ने 25 सालों से सत्ता में रही सीपीएम को विधानसभा चुनाव ने हरा दिया था. त्रिपुरा विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने शानदार प्रदर्शन करते हुए अकेले 35 सीट पर जीत हासिल की थी. वहीं सहयोगी दल IPFT (इंडीजनस पीपुल्स फ्रंट) के साथ कुल 43 सीट पर जीत हासिल की.

और पढ़ें: नरोदा पाटिया नरसंहार मामले में सुप्रीम कोर्ट से चार दोषियों को राहत, उमेश सहित चार को जमानत 

कौन है व्लादिमीर लेनिन ?

लेनिन को रूसी क्रांति के नायक रूका नायक माना जाता है. रूस को क्रांति का रास्ता दिखाकर सत्ता तक पहुंचाने में व्लादिमीर लेनिन का अहम योगदान था. साल 1889 में उन्होंने स्थानीय मार्क्सवादियों का संगठन बनाया. मार्क्सवादी विचारक लेनिन के नेतृत्व में 1917 में रूस की क्रांति हुई थी। रूसी कम्युनिस्ट पार्टी (बोल्शेविक पार्टी) के संस्थापक लेनिन के मार्क्सवादी विचारों को 'लेनिनवाद' के नाम से जाना जाता है.

First Published: Jan 23, 2019 12:38:35 PM

RELATED TAG: Tamil Nadu, Lenin,

Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो