नागरिकता संशोधन कानून: उत्तर पूर्व राज्यों में हिंसा को देखते हुए अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : December 14, 2019 11:11:05 AM
उत्तर पूर्व में हिंसा पर US, फ्रांस और ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी

उत्तर पूर्व में हिंसा पर US, फ्रांस और ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी (Photo Credit : फाइल फोटो )

नई दिल्ली:  

नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act): नागरिकता संशोधन कानून बन जाने के बाद उत्तर पूर्वी राज्यों में फैली विरोध की आग अब शांत होने लग गई है. वहां के हालात अब सामान्य हो रहे हैं. सरकार ने गुवाहाटी में लगाए गए कर्फ्यू में ढील दे दी है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आज यानि शनिवार को सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक कर्फ्यू में ढील दी जाएगी. बता दें कि शुक्रवार को उत्तर पूर्वी राज्यों में कई जगहों पर हिंसक झड़प की वारदातें हुई थीं.

यह भी पढ़ें: क्या है गोल्ड ईटीएफ (Gold ETF), इसमें निवेश करके कैसे मिलता है मुनाफा, जानें यहां

अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन ने नागरिकों को एडवाइजरी जारी की
हिंसा को देखते हुए अमेरिका (America), फ्रांस (France) और ब्रिटेन (Britain) ने अपने नागरिकों के लिए एडवाइजरी जारी की है. तीनों देशों ने एडवाइजरी में अपने नागरिकों को असम नहीं जाने की सलाह दी गई है. ब्रिटेन ने तो अपने नागरिकों से यहां तक कहा है कि अगर बहुत जरूरी हो तो ही असम की यात्रा पर जाएं, अन्यथा दौरा रद्द कर दें. अगर जाना जरूरी ही ही तो यात्रा के समय काफी सावधानी बरतें.

यह भी पढ़ें: कॉर्पोरेट टैक्स को लेकर नीति आयोग के CEO अमिताभ कांत ने कही ये बड़ी बात

अमेरिकी प्रशासन की द्वारा जारी एडवाइजरी के मुताबिक भारत में बने नए नागरिकता कानून की वजह से उत्तर पूर्व के राज्‍यों में काफी विरोध प्रदर्शन हो रहा है, जिसकी वजह से कुछ इलाकों में कर्फ्यू है. इन्हीं सब वजहों से अमेरिकी सरकार ने अपने नागरिकों को असम की आधिकारिक यात्रा को अस्थायी रूप से निलंबित करने की सलाह दी है. एडवाइजरी में कहा गया है कि अमेरिकी नागरिक विदेश यात्रा के दौरान अमेरिकी विदेश विभाग की वेबसाइट की जांच करते रहें. बता दें कि वेबसाइट पर विश्‍व के मौजूदा हालात, यात्रा संबंधी चेतावनी, यात्रा अलर्ट की जानकारी होती है. इसके अलावा स्‍थानीय मीडिया से हालात की जानकारी लेते रहें.

यह भी पढ़ें: Big News: 1 फरवरी को पेश हो सकता है आम बजट, सूत्रों के हवाले से ख़बर

अमेरिकी विदेश विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि नागरिकता कानून में संशोधन करने के बाद से पूरे घटनाक्रम पर नज़र रखे हुए हैं. उनका कहना है कि भारत से अमेरिका ने अनुरोध किया है कि वह धार्मिक अल्पसंख्यकों के अधिकारों की रक्षा करे. बता दें कि नागरिकता कानून के खिलाफ देश के कुछ हिस्सों में काफी तीव्र विरोध हो रहा है. पूर्वोत्तर में खासकर असम और त्रिपुरा में हिंसा की घटनाएं होने की भी खबर हैं. गुवाहाटी में अनिश्चितकालीन कर्फ्यू लगाया गया है. हालांकि सरकार ने गुवाहाटी में लगाए गए कर्फ्यू में कुछ ढील भी दी है. वहीं ब्रिटेन ने अपने नागरिकों से कहा है कि जब तक हालात सामान्य नहीं हो जाते हैं वह भारत की यात्रा नहीं करें.

First Published: Dec 14, 2019 11:11:06 AM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो