BREAKING NEWS
  • बिहार-झारखंड की ताज़ा खबरें, 14 नवंबर 2019 की बड़ी ब्रेकिंग न्यूज़- Read More »
  • Today History: आज ही के दिन WHO ने एशिया के चेचक मुक्त होने की घोषणा की थी, जानें आज का इतिहास- Read More »
  • Horoscope, 13 November: जानिए कैसा रहेगा आज आपका दिन, पढ़िए 13 नवंबर का राशिफल- Read More »

सीबीआई दो हफ्ते में बताए 11 लड़कियों की हत्या हुई या नहीं, जानें किस मामले में हुई सुप्रीम कोर्ट सख्त

News State Bureau  |   Updated On : May 06, 2019 12:45:17 PM
मुजफ्फरपुर शेल्टर होम की खुदाई में मिली थीं हड्डियां

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम की खुदाई में मिली थीं हड्डियां (Photo Credit : )

नई दिल्ली.:  

सर्वोच्च न्यायालय ने मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामले में सीबीआई से दो हफ्ते में जांच पूरी कर स्टेट्स रिपोर्ट दाखिल करने को कहा है. इस मामले में 11 लड़कियों की कथित हत्या के आरोपों की जांच करने को भी कहा गया है. इस मामले में अगली सुनवाई 3 जून को होगी. गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट में सीबीआई की ओर से बताया गया कि 11 लड़कियां गायब हैं जिनकी हत्या का संदेह है. इनमें करीब 35 लडकियों के नाम एक जैसे हैं.

यह भी पढ़ेंः निजी कर्मचारियों का ज्यादा पेंशन पाने का टूट सकता है सपना, EPFO दे सकता है झटका

11 लड़कियों की हत्या की जांच और दोषी जांच का केंद्र
बीते शुक्रवार को सीबीआई ने स्टेटस रिपोर्ट दाखिल कर कहा था कि मुख्य आरोपी बृजेश ठाकुर समेत अन्य लोगों की 11 हत्याओं के मामले में भूमिका की जांच हो रही है. एजेंसी को शक है कि जो 11 लड़कियां गायब हैं उनकी हत्या की गई है. फिलहाल शेल्टर होम में आने-जाने वाले लोगों के खिलाफ चार्जशीट दायर की गई है. सर्वोच्च न्यायालय में सीबीआई ने कहा है शेल्टर होम में खुदाई में हड्डियां मिली हैं. मामले में हुई हत्या की अभी जांच जारी है.

यह भी पढ़ेंः पूर्व पीएम राजीव गांधी को अकाली दल ने बताया सबसे बड़ा मॉब लिंचर, जानें वजह

सीबीआई नहीं बचा रही प्रभावशाली लोगों को
इसके साथ ही सीबीआई ने इन आरोपों से इंकार किया है कि मामले में शक्तिशाली और प्रभावशाली लोगों को बचाया जा रहा है. दरअसल, मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामले में सीबीआई की चार्जशीट के खिलाफ दाखिल याचिका पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई कर रहा है. इस मामले में याचिकाकर्ता निवेदिता झा ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल कर कहा है कि सीबीआई की ओर से दाखिल की गई चार्जशीट में बलात्कार और हत्या के आरोपों को शामिल नहीं किया है.

First Published: May 06, 2019 12:29:24 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो