BREAKING NEWS
  • RIP Arun Jaitley: BJP में सुषमा स्वराज के बाद अंतिम उदार नेता थे अरुण जेटली- Read More »
  • अरुण जेटली के निधन पर देश के साथ विदेश से भी आ रहे शोक संदेश, जानें किसने क्या कहा-

    Sad to learn that former Finance Minister #ArunJaitley has passed away. My heartfelt condolences to the deceased and his family.

    — Sun Weidong (@China_Amb_India) August 24, 2019 " title="अरुण जेटली के निधन पर देश के साथ विदेश से भी आ रहे शोक संदेश, जानें किसने क्या कहा" class="read"> Read More »
  • PAK को भारत के साथ कारोबार बंद करना पड़ा भारी, अब इन चीजों के लिए चुकाने पड़ेंगे 35% ज्यादा दाम- Read More »

कर्नाटक में राजनीतिक संकट, सरकार बचाने कांग्रेस के लिए 2 वरिष्ठ नेता बेंगलुरू रवाना

News State Bureau  |   Updated On : May 29, 2019 07:25 AM
(फोटो :ANI)

(फोटो :ANI)

ख़ास बातें

  •  कर्नाटक 'संकट' से निपटने के लिए गुलाम नबी आजाद और वेणुगोपाल बेंगलुरू रवाना
  •  कांग्रेस के दो बागी विधायक बीजेपी नेता से की थी मुलाकात
  •  कर्नाटक में बीजेपी ने 28 में से 25 सीटें जीती, कांग्रेस-JDS को 1-1 सीट

नई दिल्ली:  

कर्नाटक सरकार में संभावित किसी भी संकट को रोकने के लिए कांग्रेस अपने दो वरिष्ठ नेताओं गुलाम नबी आजाद और केसी वेणुगोपाल को स्थिति संभालने के लिए बेंगलुरू भेजा है. सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि आजाद और वेणुगोपाल मंगलवार शाम तक बेंगलुरू पहुंच रहे हैं और वे गठबंधन के वरिष्ठ नेताओं जैसे जेडीएस के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी, उपमुख्यमंत्री जी परमेश्वर, डीके शिवकुमार और सिद्धारमैया के साथ चर्चा कर सकते हैं.

सूत्रों ने कहा कि विधायकों के पार्टी छोड़ने से रोकने के लिए मंत्रिमंडल का विस्तार भी किया जा सकता है. यह कदम ऐसे समय में उठाया गया है, जब खबर आई है कि बीजेपी जनता दल (सेकुलर) और कांग्रेस के नाराज विधायकों को आकर्षिक करने का प्रयास कर रही है.

इसे भी पढ़ें: हापुड़ भीड़ हिंसा मामले में कोई धार्मिक एंगल या साजिश नहीं, यूपी पुलिस का SC में हलफनामा

पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में 224 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा 104 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी। हालांकि वह बहुमत से नौ सीटें पीछे रह गई थी, और वह सरकार नहीं बना सकी थी.

दूसरी तरफ जद (एस) और कांग्रेस ने गठबंधन बनाकर 116 सीटों के साथ सरकार बना ली. जद (एस)-कांग्रेस गठबंधन को अभी संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में भारी झटका लगा है. यह गठबंधन राज्य की 28 सीटों में से मात्र दो सीटें जीत पाया.

इसके बाद कर्नाटक कांग्रेस के दो बागी विधायकों ने रविवार को भाजपा के वरिष्ठ नेता एसएम कृष्णा से मुलाकात की थी, जो पहले कांग्रेस में थे और विदेश मंत्री रहे.

और पढ़ें: खुशखबरी! बैंकों से लेनदेन करने वालों के लिए RBI ने दी ये बड़ी सौगात

बीजेपी की राज्य इकाई के प्रवक्ता जी मधुसूदन ने बेंगलुरू में को बताया, 'कांग्रेस के दो विधायकों- रमेश जरकीहोली और के सुधाकर ने कृष्णा से निजी कारणों से शहर में मुलाकात की, क्योंकि दोनों उनके परिचित हैं और कृष्णा 2018 के प्रारंभ में हमारी पार्टी में शामिल होने से पहले कांग्रेस में थे.'

First Published: Tuesday, May 28, 2019 09:54:20 PM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Karnataka Government, Bangalor, Kc Venugopal, Ghulam Nabi Azad, Dk Shivkumar,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

न्यूज़ फीचर

वीडियो