आज पूरी तरह से बहाल हो जाएंगी कश्मीर रेल सेवाएं, जम्मू-श्रीनगर हाइवे तीसरे दिन भी बंद

NEWS STATE BUREAU  |   Updated On : November 17, 2019 07:00:11 AM
सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र (Photo Credit : (फाइल फोटो) )

ख़ास बातें

  •  सरकार का रविवार से श्रीनगर-बनिहाल मार्ग पर भी ट्रेन चलाने का फैसला.
  •  केंद्र सरकार के फैसले के बाद घाटी में रेल सेवाएं निलंबित कर दी गई थीं.
  •  बाजार भी सुबह से दोपहर के बीच कुछ घंटों के लिए खुलने लगे हैं.

New Delhi :  

जम्मू-कश्मीर में रेल सेवाएं रविवार से पूरी तरह से बहाल हो जाएंगी. बीते मंगलवार से श्रीनगर-बारामुला के बीच रेल परिचालन शुरू करने के बाद रेलवे ने रविवार से श्रीनगर-बनिहाल मार्ग पर भी ट्रेनें चलाने का फैसला किया है. पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद-370 को निष्प्रभावी करने के केंद्र सरकार के फैसले के बाद घाटी में रेल सेवाएं निलंबित कर दी गई थीं.

यह भी पढ़ेंः भारत ने अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल का किया सफल परीक्षण, पाकिस्तान के गली-मोहल्ले तक होगी पहुंच

ट्रायल रन सफलतापूर्वक पूरा
अधिकारियों ने बताया कि शनिवार को श्रीनगर-बनिहाल रेल लाइन की संपूर्ण सुरक्षा जांच के बाद ट्रेनों का ट्रायल रन सफलतापूर्वक पूरा किया गया. रविवार से रूट पर ट्रेन परिचालन शुरू कर दिया जाएगा. दूसरी ओर, घाटी में शनिवार से माध्यमिक कक्षाओं के छात्रों की वार्षिक परीक्षाएं शुरू हो गईं. परीक्षाएं पहले सोमवार 11 नवंबर से शुरू होने वाली थीं, लेकिन भारी बर्फबारी के कारण पहले दो पेपर स्थगित करने पड़े थे. वहीं, घाटी के बाजार भी अब सुबह से दोपहर के बीच कुछ घंटों के लिए नियमित रूप से खुलने लगे हैं. हालांकि, क्षेत्र में प्री-पेड मोबाइल फोन और इंटरनेट सेवाएं अब भी बाधित हैं.

यह भी पढ़ेंः सोनिया गांधी-शरद पवार की बैठक टली, आज पुणे में होगी NCP कोर कमेटी की मीटिंग

जम्मू-श्रीनगर हाइवे तीसरे दिन भी बंद
जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग शनिवार को लगातार तीसरे दिन भी बंद रहा. इस बीच भारी बारिश से रामबन जिले में भूस्खलन के कारण जमा हुए मलबे को हटाने का कार्य बाधित हो गया है. डिगडोल में गुरुवार रात नौ बजे कश्मीर को देश के बाकी हिस्सों से जोड़ने वालो इस एकमात्र राजमार्ग पर हुए भारी भूस्खलन से यातायात अवरुद्ध चल रहा. अधिकारियों ने बताया कि राजमार्ग बंद होने से आवश्यक वस्तुओं को कश्मीर तक ले जाने वाले ट्रक समेत 15600 से अधिक वाहन फंस गए हैं.

यह भी पढ़ेंः अयोध्या के फैसले पर पुनर्विचार याचिका दाखिल करेगा मुस्लिम पक्ष, पक्षकारों की मीटिंग में हुआ यह फैसला

बारिश से स्थिति और बिगड़ी
सड़क से मलबा हटाने का काम तुरंत शुरू कर दिया गया था, लेकिन शुक्रवार रात से ही रुक-रुककर हो रही बारिश ने इसमें बाधा उत्पन्न कर दी है. मरूग सहित कई स्थानों से पत्थर हटा लिया गया है. हालांकि कई स्थान अब भी मलबे से पटे हुए हैं. रविवार तक इनके साफ होने की उम्मीद है. दूसरी ओर, जम्मू क्षेत्र के पुंछ और राजौरी जिलों को दक्षिण कश्मीर के शोपियां से जोड़ने वाले मुगल रोड पर शनिवार को लगातार 11वें दिन यातायात बंद रखा गया. दरअसल, मुगल रोड के आसपास के इलाकों में पिछले कुछ दिनों से बर्फबारी हो रही है. मौसम में सुधार के बाद सड़क को फिर से खोलने का निर्णय लिया जाएगा.

First Published: Nov 17, 2019 07:00:11 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो