1984 दंगा मामले में सर्वोच्च न्यायलय ने 9 दोषियों को किया बरी

IANS  |   Updated On : April 30, 2019 03:42:08 PM
सर्वोच्च न्यायालय ने नौ दोषियों को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया

सर्वोच्च न्यायालय ने नौ दोषियों को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

सर्वोच्च न्यायालय ने मंगलवार को 1984 सिख-विरोधी दंगा मामले में सबूतों के अभाव में संदेह का लाभ देते हुए नौ दोषियों को बरी कर दिया. इन लोगों को पूर्वी दिल्ली के त्रिलोकपुरी इलाके में दंगा भड़काने के लिए दोषी ठहराया गया था. पिछले वर्ष नवंबर में, दिल्ली उच्च न्यायालय ने मामले में सजा के फैसले को बरकरार रखा था, जिसके बाद दोषियों ने सर्वोच्च न्यायालय को रुख किया था.

यह भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश: तेल मिल का पाइप फटने से हुआ अमोनिया गैस का रिसाव, पुलिस कर रही मामले की जांच

सर्वोच्च न्यायालय ने कहा, "इन लोगों के खिलाफ कोई सबूत नहीं है और यहां तक कि प्रत्यक्षदर्शियों ने भी उनकी सीधे तौर पर पहचान नहीं की." मामले में जिन्हें मंगलवार को बरी किया गया उनमें गनशेनन, वेद प्रकाश, तारा चंद, सुरेंदर सिंह (कल्याण पुरी), हबीब, राम शिरोमणी, ब्रह्म सिंह, सुब्बर सिंह ओर सुरेंदर मूर्ति शामिल हैं.

First Published: Apr 30, 2019 03:42:00 PM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो