दिल्‍ली पुलिस की पूछताछ में शरजील इमाम का बड़ा कबूलनामा, कही यह बात

News State Bureau  |   Updated On : January 30, 2020 10:31:40 AM
दिल्‍ली पुलिस की पूछताछ में शरजील इमाम का बड़ा कबूलनामा, कही यह बात

दिल्‍ली पुलिस की पूछताछ में शरजील इमाम का बड़ा कबूलनामा (Photo Credit : File Photo )

नई दिल्‍ली :  

दिल्‍ली पुलिस की पूछताछ में देशद्रोह का आरोपी शरजील इमाम ने बड़ा कबूलनामा किया है. सूत्रों के मुताबिक, पूछताछ में शरजील ने माना है कि विवादित और भड़काऊ भाषणों वाला वीडियो उसी का है. साथ ही उसने यह भी कहा कि उसने किसी और रिफरेंस में यह बात कही थी, लेकिन उसकी बातों का गलत मतलब निकाला गया. एक दिन पहले शरजील इमाम को दिल्‍ली पुलिस ट्रांजिट रिमांड पर पटना से दिल्‍ली लेकर आई थी. यहां दिल्‍ली पुलिस ने शरजील को साकेत कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे 5 दिनों के रिमांड पर भेज दिया गया. देशविरोधी और भड़काऊ भाषण देने के आरोपी शरजील को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने बिहार के जहानाबाद से मंगलवार को गिरफ्तार किया था. देशविरोधी भाषण देने के आरोप में छह राज्‍यों में शरजील के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया है.

यह भी पढ़ें : NCP नेता जितेंद्र आव्‍हाड ने इंदिरा गांधी को लेकर कही ऐसी बात, जिससे जल-भुन जाएगी कांग्रेस

जिस विवादित वीडियो के आधार पर शरजील को गिरफ्तार किया गया, उसमें वह कहता दिख रहा है- 'आप जानते हो असम में मुसलमानों के साथ क्या हो रहा है?. एनआरसी वहां लागू हो चुका है और लोगों को डिटेंशन कैंपों में भेजा जा रहा है. शरजील ने कहा कि हमें असम के रास्ते बंद करने होंगे जिससे सेना और अन्य सप्लाई वहां न पहुंच सके. मुर्गी की गर्दन मुसलमानों के हाथ में है.'

असम (Assam) को भारत (India) से काटकर अलग करने का आह्वान करने वाला शरजील इमाम (Sharjeel Imam) जेएनयू (JNU) में मॉडर्न हिस्ट्री (Modern History) का छात्र है. उसने आईआईटी बॉम्बे (IIT Bombay) से कम्प्यूटर साइंस (Computer Science) की पढ़ाई की है. साथ ही कई वेबसाइटों में स्तंभ लिखता है.

यह भी पढ़ें : निर्भया के हत्‍यारों को फंदे पर लटकाने आज तिहाड़ पहुंच रहा पवन जल्‍लाद, सबसे पहले करेगा यह काम

जेएनयू (JNU) से पीएचडी कर रहा शरजील इमाम यूरोप से नौकरी छोड़ कर लौटा है. उसने जेएनयू में पीएचडी में दाखिला लिया और इस्लामिक इलमों की ओर मुड़ता चला गया और पांच वक्त का नमाजी भी बन गया. आइआइटी बॉम्बे (IIT Bombay) से कंप्यूटर साइंस (Computer science) में एमटेक (M. Tech)करने के बाद शरजील भारत से यूरोप चला गया था. उसकी लेखनी और सोच में कट्टरता की छाप है. कई राज्‍यों की पुलिस उसकी तलाश कर रही थी. शरजील जम्‍मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने के समय भी अपनी भूमिका को लेकर चर्चित रहा था. उसे शाहीनबाग गतिरोध का मास्‍टरमाइंड भी माना जाता है.

First Published: Jan 30, 2020 10:16:17 AM

न्यूज़ फीचर

वीडियो