प्रियंका गांधी के आवास में घुसने वाली महिला हैं कांग्रेस कार्यकर्ता, कहा- होमगार्डों पर छोड़ दी गई थी सुरक्षा

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : December 03, 2019 05:45:13 PM
शारदा त्यागी

शारदा त्यागी (Photo Credit : ANI )

नई दिल्ली:  

कांग्रेस नेता प्रियंका वाड्रा के नई दिल्ली स्‍थित निवास पर बड़ी सुरक्षा चूक का मामला सामने आया है. बताया गया कि पांच लोग एक वाहन से प्रियंका के आवास में बेधड़क प्रवेश कर गए. वे पोर्च तक पहुंच गए. वाड्रा के कर्मचारियों द्वारा पूछे जाने पर सीआरपीएफ अधिकारियों ने कहा कि कार को दिल्ली पुलिस ने अंदर जाने की अनुमति दी थी. इसके बाद इस पर राजनीति भी शुरू हो गई. वाहन में सवार जो महिला थीं, उसका नाम शारदा त्यागी है. वाहन सीधे बेधड़क तरीके से प्रियंका गांधी के आवास में घुस गया.

यह भी पढ़ें- केवल भारत को छोड़कर इन देशों में दुष्कर्म के दोषियों को दी जाती है खौफनाक सजा, सुन कांप उठेगी रूह

शारदा त्यागी ने कहा कि मैं कांग्रेस में पैदा हुई थी और मैं पार्टी के लिए समर्पित हूं. मुझे यह जानकर गहरा दुख हुआ कि होमगार्डों के ऊपर सुरक्षा छोड़ दी गई थी. मैं पहली बार वहां गया और यह देखा. यह बहुत गलत हुआ है. शारदा त्यागी ने आगे कहा कि मुझे प्रियंका गांधी वाड्रा का मकान नंबर नहीं पता था. इसके लिए मैंने कांग्रेस कार्यालय में फोन करके इसके बारे में पूछा. जब मैं वहां गया, तो सुरक्षाकर्मियों ने यह देखने की भी परवाह नहीं की कि कार में कौन बैठा है. इसके बाद बैरिकेड को तुरंत हटा दिया गया और गेट खोल दिया गया.

यह भी पढ़ें- होमगार्ड विभाग घोटाले में बड़ी कार्रवाई, योगी सरकार ने डीजी जीएल मीणा को हटाया

बता दें कि एसपीजी संशोधन विधेयक 2019 लोकसभा से पारित हो गया था और मंगलवार को राज्‍यसभा में भी पास हो गया. इस विधेयक में दो-दो बड़े बदलाव किए गए हैं. नए विधेयक में कहा गया है कि केवल देश के प्रधानमंत्री और उनके साथ रहने वाले परिवार को ही एसपीजी सुरक्षा दी जाएगी. विधेयक में यह भी कहा गया है कि पूर्व प्रधानमंत्री को कार्यालय छोड़ने के पांच साल बाद तक एसपीजी सुरक्षा मिलेगी. प्रियंका वाड्रा के आवास में जो गाड़ी घुसी थी, वो एक कांग्रेसी कार्यकर्ता की थी. उनमें से एक महिला चुनाव लड़ चुकी थी.

महिला को मुख्‍य गेट से एंट्री भी मिली थी. सूत्र बताते हैं कि प्रियंका वाड्रा उन कथित कांग्रेस कार्यकर्ताओं को जानती थीं और फोटो के लिए पोज़ देने को भी तैयार हो गईं. गाड़ी से आवास में गए सभी लोग एक ही परिवार से थे. उनमें एक बच्‍चा भी शामिल था. यह घटना तब घटी है, जब गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) मंगलवार को ही राज्यसभा (Rajya Sabha) में एसपीजी (SPG) संशोधन विधेयक पेश करने वाले थे. विधेयक राज्यसभा से भी पास हो गया. नए विधेयक के अनुसार, प्रधानमंत्री के अलावा किसी को भी एसपीजी की सुरक्षा नहीं मिलेगी.

First Published: Dec 03, 2019 05:34:26 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो