खाकी खामोश : शाहीनबाग के तंबू हटे नहीं कि निजामुद्दीन में लग गए, बारापूला की शामत!