प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी पर बोले पति रॉबर्ट वाड्रा, लोकतंत्र को तानाशाही में नहीं बदला जाए

News State Bureau  |   Updated On : July 19, 2019 08:08:24 PM
रॉबर्ट वाड्रा (फाइल फोटो)

रॉबर्ट वाड्रा (फाइल फोटो) (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी पर रॉबर्ट वाड्रा ने कहा गिरफ्तारी पूरी तरह असंवैधानिक 
  •  रॉबर्ट ने कहा कि लोकतंत्र को तानाशाही में नहीं बदला जाए
  •  वाड्रा ने प्रियंका गांधी की जल्द रिहाई की मांग की

नई दिल्ली:  

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में सामूहिक हत्याकांड के पीड़ित परिवारों से मिलने जा रही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को प्रशासन द्वारा रोके जाने के बाद उनके पति रॉबर्ट वाड्रा ने कहा कि प्रियंका की गिरफ्तारी असंवैधानिक है तथा उन्हें तत्काल रिहा किया जाना चाहिए.

उन्होंने यह भी कहा कि लोकतंत्र को तानाशाही में तब्दील नहीं किया जाना चाहिए.

वाड्रा ने ट्वीट कर कहा, ‘मेरी पत्नी और कांग्रेस नेता प्रियंका को जिस तरह से गिरफ्तार किया गया है वो पूरी तरह असंवैधानिक है. गिरफ्तारी के लिए कोई दस्तावेज पेश नहीं किया गया.’

उन्होंने कहा, ‘सरकार को उन्हें तत्काल रिहा करना चाहिए. लोकतंत्र को तानाशाही में नहीं बदला जाए.’

गौरतलब है कि प्रियंका को शुक्रवार को सोनभद्र जाने से प्रशासन ने रोक दिया. वह बुधवार को हुए इस सामूहिक हत्याकांड के पीड़ित परिवारों से मिलने जा रहीं थी. प्रियंका प्रशासन के इस कदम के विरोध में धरने पर बैठ गईं.

पिछले दिनों सोनभद्र में जमीन विवाद में एक ग्राम प्रधान ने अपने समर्थकों के साथ मिलकर दूसरे पक्ष पर गोलीबारी की जिसमें 10 लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए.

बता दें कि प्रियंका गत बुधवार को सोनभद्र गोलीकांड में घायल हुए लोगों से मिलने के लिए वाराणसी के एक अस्पताल पहुंची थी. जब उन्होंने सोनभद्र जाने की कोशिश की तो प्रशासन ने उन्हें अदलहाट क्षेत्र में रोक लिया.

First Published: Jul 19, 2019 08:08:24 PM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो