BREAKING NEWS
  • Today History: आज ही के दिन WHO ने एशिया के चेचक मुक्त होने की घोषणा की थी, जानें आज का इतिहास- Read More »
  • Horoscope, 13 November: जानिए कैसा रहेगा आज आपका दिन, पढ़िए 13 नवंबर का राशिफल- Read More »
  • देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) का दावा, महाराष्ट्र में बीजेपी जल्द बनाएगी स्थिर सरकार- Read More »

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार बोले- कुलभूषण जाधव को जल्द कॉन्स्यूलर एक्सेस दे पाकिस्तान

News State Bureau  |   Updated On : July 25, 2019 05:34:35 PM
Raveesh Kumar MEA consular access should granted to Kulbhushan Jadhav

Raveesh Kumar MEA consular access should granted to Kulbhushan Jadhav (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश ने दिया बयान
  •  कुलभूषण जाधव को जल्द कॉन्स्यूलर एक्सेसे मिले
  •  इमरान खान आतंकवाद पर करे कार्रवाई

नई दिल्ली:  

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कुलभूषण जाधव के मामले में कहा कि हम उम्मीद करते हैं कि आईसीजे के फैसले के मद्देनजर कुलभूषण जाधव को जल्द से जल्द पूर्ण कांस्यूलर एक्सेस प्रदान किया जाए. हम इस संबंध में पाकिस्तानी अधिकारियों के संपर्क में हैं. जब भी कोई इसकी जानकारी मिलेगी हम आपको अवगत कराएंगे. वहीं रवीश कुमार ने इमरान खान के बयान पर जवाब दिया है. यह पहली बार पाक सरकार ने नहीं कबूला है. इमरान खान ने भी आतंकियों और ट्रेनिंग कैम्प की मौजूदगी को स्वीकार किया है. पाक सिर्फ दिखावा न करे. आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई हो, जो कि भारत हमेशा से कहता आया है.

यह भी पढ़ें - तीन तलाक बिल पर असदुद्दीन ओवैसी बोले- इस्लाम में शादी एक कॉन्ट्रैक्ट, युगों-युगों का बंधन नहीं 

जासूसी और आतंकी गतिविधियों के प्रचार-प्रसार के आरोप में पाक सैन्य अदालत में फांसी की सजा पाए भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी कुलभूषण जाधव पर अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत (आईसीजे) के बुधवार को आए फैसले की व्याख्या पाकिस्तान में अपने-अपने हिसाब से की गई. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान, विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी समेत वरिष्ठ वकीलों ने आईसीजे के फैसले को भारत के खिलाफ बताते हुए पाकिस्तान की जीत करार दिया.

यह भी पढ़ें -कुलभूषण जाधव मामले में पाकिस्तान को झुकना ही पड़ा, देगा राजनयिक मदद

इस तरह की प्रतिक्रिया देने वालों में पाकिस्तान के प्रतिष्ठित मीडिया घरानों के वरिष्ठ पत्रकार तक शामिल रहे. जाहिर सी बात है पाकिस्तान की इस उलटबांसी पर भारत में भी तीखी प्रतिक्रिया देखने को मिली है. खासकर जब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान अपने पहले अमेरिकी दौरे पर जा रहे हैं, तो इस फैसले को उनके खिलाफ माना जा रहा है. साथ ही कयास लगाए जा रहे हैं कि अमेरिका को रिझाने के लिए पाकिस्तान सरकार इमरान खान की यात्रा से पहले ही कुलभूषण जाधव को भारतीय राजनयिकों से मुलाकात की इजाजत दे सकती है.

First Published: Jul 25, 2019 05:28:29 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो