दीदी के लिए मुसीबत खड़ी करेगी RSS, BJP के लिए जमीन तैयार करने में जुटी

News State Bureau  |   Updated On : August 02, 2019 03:43:48 PM
संघ प्रमुख मोहन भागवत - फाइल फोटो

संघ प्रमुख मोहन भागवत - फाइल फोटो

नई दिल्ली:  

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) ने मिशन पश्चिम बंगाल को लेकर बनाई गई अपनी योजना पर काम करना शुरू कर दिया है. संघ प्रमुख मोहन भागवत के एक दिवसीय कोलकाता दौरे को इसी मिशन के तहत देखा जा रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भागवत ने दक्षिण बंगाल के नवनियुक्त प्रांत प्रचारक जलधर महतो और अन्य प्रचारकों के साथ संघ कार्यालय के‍शव भवन में बैठक की है.

यह भी पढ़ें: अयोध्‍या विवाद: मध्‍यस्‍थता की प्रक्रिया अब आगे नहीं चलेगी, 6 अगस्‍त से हर रोज सुनवाई

2021 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर अहम है ये बैठक
जानकारी के मुताबिक इस बैठक में पश्चिम बंगाल में RSS की शाखाओं को बढ़ाने और हिंदू संगठनों को कैसे मजबूत किया जाए इस पर चर्चा हुई है. बता दें कि 2021 में बंगाल में विधानसभा चुनाव हैं ऐसे में इस बैठक को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है. मोहन भागवत की बैठक के साथ ही ये कयास भी लगाए जा रहे हैं कि राज्य में भारतीय जनता पार्टी के संगठन में भी बड़ा बदलाव हो सकता है.

यह भी पढ़ें: PNB ग्राहकों को लगा बड़ा झटका, FD पर अब मिलेगा इतना ब्याज

बता दें कि पार्टी ने राज्य से चुनकर आए सांसद दिलीप घोष को प्रदेश अध्यक्ष के पद पर बिठाया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस बैठक के बाद दिलीप घोष की जगह किसी और को प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी देने की संभावना बढ़ गई है.

यह भी पढ़ें: रिलायंस जियो के झटके से नहीं उबर पाई एयरटेल, मुनाफे से घाटे में आई कंपनी

2021 के विधानसभा चुनाव के पहले सभी मंडल में 2 शाखाएं करने का लक्ष्य
गौरतलब है कि मौजूदा समय में पश्चिम बंगाल में 2300 मंडल हैं. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने 2021 के विधानसभा चुनाव के पहले सभी मंडल में 2 शाखाएं, साप्ताहिक बैठक मिलन और मासिक बैठक मंडली करने का लक्ष्य निर्धारित किया है. सूत्रों को मिली जानकारी के मुताबिक संघ प्रमुख ने संघ कार्यकर्ताओं को लोगों के घर-घर जाकर उनके दुख दर्द में शामिल होने का संदेश दिया है.

First Published: Aug 02, 2019 03:43:48 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो