BREAKING NEWS
  • कमलेश तिवारी हत्याकांड में आतंकी कनेक्शन पर डीजीपी का बड़ा बयान, बोले- किसी भी संभावना से इंकार नहीं- Read More »
  • कमलेश तिवारी हत्याकांडः 24 घंटे की ट्रांजिट रिमांड पर लखनऊ लाए जाएंगे तीनों आरोपी- Read More »
  • IND vs SA: पहले से ही तय थी दक्षिण अफ्रीका की धुनाई, दोहरे शतक पर जानें क्या बोले रोहित शर्मा- Read More »

अब तक जानें कितनी बार मिल चुके हैं पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और शी जिनपिंग (Xi Jinping)

न्‍यूज स्‍टेट ब्‍यूरो  |   Updated On : October 11, 2019 11:34:35 AM
जानें अब तक कितनी बार मिल चुके हैं पीएम नरेंद्र मोदी और शी जिनपिंग

जानें अब तक कितनी बार मिल चुके हैं पीएम नरेंद्र मोदी और शी जिनपिंग (Photo Credit : File Photo )

नई दिल्‍ली :  

चीन (China) के राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग (XI Jinping) आज यानी शुक्रवार को भारत दौरे (India Visit) पर आ रहे हैं. तमिलनाडु के महाबलीपुरम (Mahabalipuram) में उनकी भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के साथ अनौपचारिक शिखर वार्ता (Informal Summit) होनी है. इससे पहले चीन के शहर वुहान (Wuhan) में दोनों नेता अनौपचारिक शिखर वार्ता कर चुके हैं.

यह भी पढ़ें : शस्त्र पूजा पर पाकिस्‍तानी आर्मी आई राजनाथ सिंह के बचाव में, कही ये बड़ी बात

महाबलीपुरम में दोनों नेताओं की दूसरी अनौपचारिक शिखर वार्ता होगी, जिसमें उनके अलावा केवल दुभाषिये ही शामिल होंगे. दोनों देशों के नेताओं के बीच अब तक कई दौर की वार्ता हो चुकी है, जिसमें व्‍यापारिक रिश्‍तों, सीमा विवाद और अंतरराष्‍ट्रीय मुद्दों पर चर्चा हो चुकी है. आइए जानते हैं कब-कब पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और चीन के राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग (XI Jinping) की मुलाकात हुई:

  1. 15 जुलाई 2014: पहली मुलाकात ब्राजील में हुई थी. इसमें सीमा विवाद हल करने पर सहमति बनी थी. मोदी ने इस मौके पर कहा था, दोनों देशों के बीच सौहार्दपूर्ण माहौल दुनिया के सामने नजीर बनेगा. इस दौरान चीन ने संबंधों को बढ़ावा देने पर भी जोर दिया था.
  2. 18 सितंबर 2014 : गुजरात में पीएम नरेंद्र मोदी और शी जिनपिंग मिले थे. इस दौरान 12 समझौते हुए थे. भारत ने चीनी सैनिकों के भारतीय सीमा में घुसपैठ का मामला उठाया और इसे रोकने की मांग की थी तो जिनपिंग ने दोस्ती और व्यापार बढ़ाने पर जोर दिया था.
  3. 15 मई 2015 : चीन में दोनों नेताओं की मुलाकात में सीमा विवाद जल्द सुलझाने और व्यापारिक हित मजबूर करने पर जोर दिया गया था.
  4. 4 सितंबर 2016 : हांगझाऊ में पीएम नरेंद्र मोदी और शी जिनपिंग की मुलाकात में भारत ने पीओके से संचालित आतंकवाद का मुद्दा उठाया था और सामरिक हितों के लिए संवेदनशील होने की जरूरत बताई थी. जिनपिंग ने विवादित मुद्दों को रचनात्मक बातचीत से हल करने पर जोर दिया था.
  5. 9 जून 2017 : अष्टाना में दोनों नेताओं की मुलाकात में द्विपक्षीय संबंधों को फिर से पटरी पर लाने की उम्मीद जताई गई. तनाव कम करने के लिए लगातार उच्चस्तरीय बातचीत पर जोर दिया गया.
  6. 5 सितंबर 2017 : ब्रिक्स देशों के सम्मेलन में फिर शी जिनपिंग और पीएम नरेंद्र मोदी के बीच बातचीत हुई.
  7. अप्रैल 2018 : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने वुहान में पहला अनौपचारिक शिखर सम्मेलन आयोजित किया गया. द्विपक्षीय और वैश्विक महत्व के अतिव्यापी मुद्दों पर विचारों का आदान-प्रदान करने के लिए संबंधित दर्शन और प्राथमिकताओं पर विस्तृत बातचीत हुई. चीन के हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान में हुई इस पहली 'अनौपचारिक मुलाक़ात' में शी जिनपिंग ने कहा कि "हम आने वाले समय में भारत और चीन के बीच सहयोग का तेज़ और सुनहरा भविष्य देखते हैं." शी जिनपिंग पीएम मोदी को हुबेई के म्यूज़ियम ले गए जहां चीनी कलाकारों ने भारत के प्रधानमंत्री के स्वागत में सांस्कृतिक कार्यक्रम किया.
  8. 13 जून 2019 : सत्ता में दोबारा लौटने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने पहली बार चीन के प्रमुख से द्विपक्षीय वार्ता की. बिशकेक (किर्गिजस्तान) में मोदी की चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से हुई मुलाकात में अक्टूबर, 2019 में चिनफिंग की भारत यात्रा का एजेंडा तय हुआ था.
First Published: Oct 11, 2019 11:11:00 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो