31 जनवरी से बुलाया जाएगा संसद का सत्र, 1 फरवरी को अंतरिम बजट पेश करेंगे अरुण जेटली

News State Bureau  |   Updated On : January 10, 2019 11:03:47 AM
संसद भवन (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

संसद भवन (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर) (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

लोकसभा चुनाव से पहले संसद का संक्षिप्‍त सत्र इसी महीने के अंत में 31 जनवरी से बुलाए जाने की खबर है. मीडिया सूत्रों की मानें तो 31 जनवरी से 13 फरवरी तक संसद का सत्र बुलाया जा सकता है. माना जा रहा है कि वित्‍त मंत्री 1 फरवरी को अंतरिम बजट पेश कर सकते हैं. संसद का बजट सत्र 31 जनवरी से 13 फरवरी तक चलेगा. एक फरवरी को वित्‍त मंत्री अरुण जेटली अंतरिम बजट पेश करेंगे. संसदीय मामलों की कैबिनेट कमेटी ने संसद का बजट सत्र 31 जनवरी से 13 फरवरी तक बुलाने की सिफारिश राष्ट्रपति से की है. माना जा रहा है कर अंतरिम बजट पेश हो जाने के तत्काल बाद चुनाव आयोग आगामी लोकसभा चुनाव के कार्यक्रमों की घोषणा करेगा. चूंकि इस बार आम बजट की जगह अंतरिम बजट पेश किया जाएगा, इसलिए सरकार कोई नीतिगत निर्णय या लोकलुभावन घोषणाएं नहीं कर पाएगी. 

हालांकि सरकारी सूत्रों का कहना है कि अंतरिम बजट से पहले ही मोदी सरकार किसान वर्ग के लिए कई अहम घोषणा करेगी. इसके अलावा सरकार मध्यम वर्ग को राहत देने केलिए भी इसी महीने बड़ी घोषणा करने की तैयारी कर रही है. इसी कड़ी में मोदी सरकार ने नाराज चल रहे अगड़ों को साधने लिए सामान्य वर्ग को 10 फीसदी आरक्षण देने की घोषणा की है.

प्रथम बजट

7 अप्रैल 1860 को देश का पहला बजट ब्रिटिश सरकार के वित्त मंत्री जेम्स विल्सन ने पेश किया था.

बजट का समय बदला

1924 से लेकर 1999 तक बजट फरवरी के अंतिम कार्यकारी दिन शाम पांच बजे पेश किया जाता था. यह प्रथा सर बेसिल ब्लैकैट ने 1924 में शुरू की थी. 2000 में पहली बार यशवंत सिन्हा ने बजट सुबह 11 बजे पेश किया.

भारत का पहला बजट

स्वतंत्रता के बाद देश का पहला बजट पहले वित्त मंत्री आर० के० षणमुखम चेट्टी ने 26 नवंबर 1947 को पेश किया. इसमें 15 अगस्त 1947 से लेकर 31 मार्च 1948 के दौरान साढ़े सात महीनों को शामिल किया गया था.

अंतरिम बजट

आरके षणमुखम चेट्टी ने 1948-49 के बजट में पहली बार अंतिरम शब्द का प्रयोग किया था. तब से लघु अवधि के बजट के लिए इस शब्द का इस्तेमाल शुरु हुआ. 

First Published: Jan 09, 2019 01:26:50 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो