BREAKING NEWS
  • भगवान हैं कि नहीं यह जानना है तो यह Video देखें और खुद करें फैसला- Read More »
  • जेएनयू में छात्रों के विरोध प्रदर्शन के बाद एचआरडी ने बढ़ी फीस वापस ली- Read More »
  • Today History: आज ही के दिन WHO ने एशिया के चेचक मुक्त होने की घोषणा की थी, जानें आज का इतिहास- Read More »

कंगाल पाकिस्तान नहीं लगा पा रहा आतंक पर लगाम, पुलवामा में फिर आतंकी हमले की जताई आशंका

News State Bureau  |   Updated On : June 16, 2019 03:31:33 PM
सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  जाकिर मूसा की मौत का बदला लेने के लिए धमाका कर सकते हैं आतंकी.
  •  पाकिस्तान के खुफिया अलर्ट के बाद जम्मू-कश्मीर में हाई अलर्ट.
  •  पाकिस्तान ने संबावित हमले की सूचना भारत-अमेरिका से की साझा.

नई दिल्ली.:  

ऐसा लग रहा है कि कंगाली की कगार पर पहुंच चुका पाकिस्तान आतंकवाद पर पूरी तरह से लगाम नहीं लगा पा रहा है. उसे मालूम सब है, फिर भी आतंक के सफाये में प्रभावी भूमिका नहीं निभा पा रहा है. इस कड़ी में उसने अमेरिका और भारत से जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले की आशंका जताती खुफिया जानकारी साझा की है. इस खुफिया इनपुट में कहा गया है कि पुलवामा में आतंकी सुरक्षा बलों के हाथों मारे गए जाकिर मूसा की मौत का बदला लेने के लिए आईईडी धमाका कर सकते हैं. इसके बाद राज्य में सुरक्षा और बढ़ा दी गई है.

यह भी पढ़ेंः भारत अमेरिकी दबाव में आए बगैर रूस से लेकर रहेगा एस-400 मिसाइल सिस्टम

पाकिस्तान ने खुद को पाक साफ जताने के लिए साझा किया इनपुट
इस संभावित आतंकी हमले के इनपुट अलर्ट में कहा गया है कि आतंकी पुलवामा के आवंतिपुरा में आत्मघाती हमला कर सकते हैं. इसके बाद राष्ट्रीय राजमार्ग पर सुरक्षा और कड़ी कर दी गई है. सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तान ने इसके अलावा और कोई जानकारी साझा नहीं की है. माना जा रहा है कि आतंकी हमले के बाद खुद को कठघरे में खड़े होने से बचाने के लिए ही पाकिस्तान ने यह कदम उठाया है. गौरतलब है कि पुलवामा में फरवरी में सीआरपीएफ पर हुए आत्मघाती हमले के बाद भारत की कूटनीति से पाकिस्तान गहरे अंतरराष्ट्रीय दबाव में है.

यह भी पढ़ेंः राजनाथ से मुलाकात बाद नेशनल वार मेमोरियल पहुंचे योगी आदित्यनाथ, दी श्रद्धांजलि

जाकिर मूसा की मौत का बदला चाहते हैं आतंकी
खुफिया इनपुट के मुताबिक आतंकियों ने जाकिर मूसा की मौत का बदला लेने के लिए पुलवामा जिले में आतंकी हमले की योजना बनाई है. गौरतलब है कि 24 मार्च को त्राल में सुरक्षा बलों ने जाकिर मूसा को एक मुठभेड़ में मार गिराया था. जाकिर मूसा को मारे गए आतंकी बुरहान वानी का करीबी बताया जाता था. इस्लामाबाद स्थित भारतीय दूतावास से साझा की गई जानकारी के बाद सुरक्षा बढ़ा दी गई है. भारतीय सूत्रों का कहना है कि यह एक सामान्य इनपुट है. इसके अलावा कोई भी जानकारी नहीं दी गई है.

First Published: Jun 16, 2019 12:42:11 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो