पाकिस्तान की चाल, मुलाकात के बाद जाधव का एक और 'कबूलनामा' वीडियो जारी

News State Bureau  |   Updated On : December 25, 2017 08:42:22 PM

ख़ास बातें

  •  कुलभूषण जाधव की पत्नी और मां से मुलाकात के बाद पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय की तरफ से एक वीडियो जारी किया गया है
  •   इस वीडियो में जाधव कथित तौर पर पाकिस्तानी सरकार का 'शुक्रिया' अदा करते दिखाई दे रहे हैं

नई दिल्ली :  

कुलभूषण जाधव की पत्नी और मां से मुलाकात के बाद पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय की तरफ से एक और वीडियो जारी किया गया है। इस वीडियो में जाधव कथित तौर पर पाकिस्तानी सरकार का शुक्रिया अदा करते दिखाई दे रहे हैं।

ऐसा लगता है कि पाकिस्तानी अधिकारियों ने जाधव की पत्नी और मां से मुलाकात से पहले ही इस वीडियो को बना लिया था, जिसे पूर्व निर्धारित योजना के तहत बाद में जारी किया गया।

सोमवार को पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय में जाधव की पत्नी और मां से मुलाकात हुई। हालांकि इस पूरी मुलाकात के दौरान जाधव और उनके परिवार के सदस्यों के बीच शीशे की दीवार थी।

जाधव इंटरकॉम की मदद से अपनी मां और पत्नी से बात कर रहे थे। इस मुलाकात के बाद पहले से तैयार किए गए वीडियो को सार्वजनिक किए जाने के बाद पाकिस्तान की मंशा पर सवाल उठने लगे हैं।

वीडियो में एक बार फिर से जाधव को भारत का कमांडर बताया गया है। इस वीडियो में जाधव कथित तौर पर यह कहते हुए दिखाई पड़ रहे हैं कि उन्होंने दो साल पहले ईरान की सीमा से पाकिस्तान में प्रवेश किया था।

जाधव कह रहे हैं कि उन्होंने अपने परिवार के सदस्यों से मिलने का आग्रह किया था और वह ऐसा होने देने के लिए पाकिस्तान सरकार के आभारी हैं।
वीडियो में जाधव कह रहे हैं, 'मैंने करीब दो साल पहले ईरान से पाकिस्तान में प्रवेश किया और मैं इस दौरान रॉ के लिए काम कर रहा था। मेरे साथ पाकिस्तानी अधिकारियों ने काफी प्रतिष्ठा और गरिमापूर्ण व्यवहार किया।'

उन्होंने कहा, 'मैंने मानवीय आधार पर अपनी पत्नी से मिलने की मांग की थी और मुझे बताय गया कि मैं आज अपनी पत्नी और मां से मिलने जा रहा हूं। मैं इसके लिए वाकई में पाकिस्तान सरकार का आभारी हूं।'

गौरतलब है कि पाकिस्तान पहले भी इस तरह का फर्जी वीडियो जारी करता रहा है, जिसमें जाधव खुद के भारतीय जासूस होने की बात कबूलते नजर आ रहे हैं।

जून में पाकिस्तान ने एक ऐसा ही वीडियो जारी किया था जिसमें वह खुद के जासूस होने की बात स्वीकार करते हुए दिखाई दे रहे हैं।

गौरतलब है कि भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी जाधव को पाकिस्तान ने कथित रूप से जासूसी के आरोप में गिरफ्तार कर रखा है। जाधव को पाकिस्तान की सैन्य अदालत फांसी की सजा सुना चुकी है।

हालांकि भारत ने पाकिस्तान की इस एकतरफा कार्रवाई के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में अपील की थी, जिसने जाधव की फांसी की सजा पर रोक लगा दी है।

जाधव की परिवार से मुलाकात के बाद पाकिस्तान ने एक बार फिर से दावा किया है कि उन्हें राजनयिक मदद पहुंचाने की भी इजाजत दे दी गई है। हालांकि भारत ने पाकिस्तान के इस दावे को खारिज कर दिया है।

भारत लगातार जाधव तक राजनयिक पहुंच दिए जाने की मांग करता रहा है, जिसे पाकिस्तान ने अब तक नहीं माना है।

दरअसल जाधव के परिवारवालों के साथ इस्लामाबाद में भारत के उप-उच्चायुक्त जे पी सिंह भी मौजूद थे और इसी वजह से पाकिस्तान ने इसे राजनयिक पहुंच करार देने की कोशिश की। हालांकि भारत के विरोध के बाद  पाकिस्तान इससे मुकर गया।

विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने कहा कि जाधव व उनके परिवार के बीच की तय मुलाकात में भारतीय राजनयिक की मौजूदगी का मतलब भारत को राजनयिक पहुंच देना नहीं है। 

इससे पहले पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ ने कहा था कि भारत को जाधव के मामले में राजनयिक पहुंच दी गई है, उन्होंने इसे 'रियायत' बताया था।

और पढ़ें: पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय में पत्नी और मां से मिले कुलभूषण जाधव

First Published: Dec 25, 2017 05:17:49 PM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो