सनाउल्लाह ‘घुसपैठिया’ और पाक वायुसेना के अफसर के बेटे सामी को पद्मश्री क्यों: कांग्रेस

News State Bureau  |   Updated On : January 26, 2020 08:04:16 PM
कांग्रेस के प्रवक्ता जयवीर शेरगिल Jaiveer Shergill

कांग्रेस के प्रवक्ता जयवीर शेरगिल Jaiveer Shergill (Photo Credit : फाइल फोटो )

दिल्ली:  

कांग्रेस ने जाने माने गायक अदनान सामी (Adnan Sami) को पद्मश्री दिए जाने पर रविवार को सवाल उठाया और तंज कसते हुए कहा कि अब ‘भाजपा सरकार की चमचागिरी’ यह प्रतिष्ठित सम्मान दिए जाने का नया मानदंड बन गया है. कांग्रेस के प्रवक्ता जयवीर शेरगिल (Jaiveer Shergill) ने यह सवाल भी किया कि ऐसा क्यों हुआ कि करगिल युद्ध में शामिल हुए सैनिक सनाउल्लाह को ‘घुसपैठिया’ घोषित कर दिया गया, जबकि उस सामी को पद्म सम्मान दिया जा रहा है जिसके पिता ने पाकिस्तानी वायुसेना में रहकर भारत के खिलाफ गोलाबारी की थी?.

यह भी पढ़ेंःगणतंत्र दिवस पर कांग्रेस ने पीएम नरेंद्र मोदी को भेजा ये अनोखा तोहफा, जानें क्या है Gift

शेरगिल ने एक वीडियो जारी कर कहा कि भारतीय सेना के वीर सिपाही और भारत माता के पुत्र मोहम्मद सनाउल्लाह जिन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ कारगिल की लड़ाई लड़ी उनको एनआरसी के जरिए घुसपैठिया घोषित कर दिया गया. दूसरी तरफ, अदनान सामी को पद्म श्री से नवाज दिया गया जिनके पिता पाकिस्तानी वायुसेना में अफसर थे और भारत के खिलाफ गोलाबारी की थी.

उन्होंने सवाल किया कि पाक के खिलाफ लड़ने वाला भारत का सिपाही घुसपैठिया और पाक वायुसेना के अफसर के बेटे को सम्मान क्यों?. क्या पद्मश्री के लिए समाज में योगदान जरूरी है या सरकार का गुणगान? क्या पद्मश्री के लिए नया मानदंड है कि करो सरकार की चमचागिरी, मिलेगा तुमको पद्मश्री?. गौरतलब है कि कुछ साल पहले भारत की नागरिकता हासिल करने वाले सामी को इस साल पद्मश्री सम्मान देने की घोषणा की गई है. सामी पहले पाकिस्तानी नागरिक थे.

इन्हें मिला पद्म विभूषण

जॉर्ज फर्नांडिस (मरणोपरांत), अरुण जेटली (मरणोपरांत), सुषमा स्वराज (मरणोपरांत), सर अनिरुद्ध जुगनाथ, एमसी मैरी कॉम, छन्नूलाल मिश्रा, पेजावरा मठ के महंत श्री विश्वेशा (मरणोपरांत).

यह भी पढ़ेंःMann Ki Baat: पीएम नरेंद्र मोदी ने मन की बात प्रोग्राम में कही ये 10 बड़ी बातें

ये हस्तियां पद्म भूषण से नवाजी गईं

मुमताज अली, सैयद मुआजेम अली (मरणोपरांत), नीलकंठ रामकृष्ण माधव मेनन (मरणोपरांत), मनोहर पर्रिकर (मरणोपरांत), अजय चक्रवर्ती, मुजफ्फर हुसैन बेग, मनोज दास, बालकृष्ण दोषी, एससी जमिर, कृष्णाम्मल जगन्नाथन, अनिल प्रकाश दोषी, सेरिंग नंडोल, आनंद महिंद्रा, प्रो. जगदीश सेठ, पीवी सिंधु, वेणु श्रीनिवासन

इन्हें मिला पद्मश्री

जगदीश लाल आहूजा, मोहम्मद शरीफ, जावेद अहमद टाक, तुलसी गोडा, अब्दुल जब्बार, उषा चौमार, पोपटराव पवार, सत्यनारायण मुंदयूर, अरुणोदय मंडल, राधामोहन और साबरमती, कुशल कोनवार शर्मा, हरेकाला हजब्बा, त्रिनिती सावो, रविकन्नन, एस रामकृष्णन, सुंदरम वर्मा, मुन्ना मास्टर, योगी आर्यन, राहीबाई सोमा पोपेरा, हिम्मत राम भांभू, मोझ्झिकल पंकजाक्षी, कंगना रनौत, एकता कपूर, करण जौहर समेत 118 हस्तियों को पद्मश्री दिया जाएगा.

First Published: Jan 26, 2020 08:00:47 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो