फारूक, उमर, महबूबा की रिहाई पर कोई फैसला नहीं, इंटरनेट प्रतिबंध हटाने पर विचार

NEWS STATE BUREAU  |   Updated On : November 30, 2019 08:03:23 AM
सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र (Photo Credit : (फाइल फोटो) )

ख़ास बातें

  •  इन पूर्व मुख्यमंत्रियों को अनुच्छेद 370 को रद्द करने के बाद हिरासत में लिया गया था.
  •  कश्मीर में पहले बड़े खेल कार्यक्रम 'खेलो इंडिया' को बढ़ावा दिया गया.
  •  इंटरनेट प्रतिबंध से मीडिया कर्मियों को हो रही दिक्कत. विचार होगा.

Srinagar:  

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के जम्मू-कश्मीर मामलों के प्रभारी अविनाश राय खन्ना ने शुक्रवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर के तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों की रिहाई पर कोई फैसला नहीं लिया गया है. इन पूर्व मुख्यमंत्रियों को अनुच्छेद 370 को रद्द करने के बाद हिरासत में लिया गया था. खन्ना ने कहा, "पूर्व मुख्यमंत्रियों की रिहाई के बारे में कुछ भी तय नहीं किया गया है. प्रशासन उनके रिहा करने या नहीं करने या कब करने पर फैसला लेगा.

यह भी पढ़ेंः NRC: असम के स्टेट कोऑर्डिनेटर प्रतीक हजेला पर दर्ज हुई FIR

राज्यपाल शुरू करेंगे परिसीमन की प्रक्रिया
उन्होंने कहा कि उनमें से कुछ के खिलाफ अदालत में मामले हैं. जम्मू-कश्मीर में विधानसभा क्षेत्रों के परिसीमन के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि उपराज्यपाल जी.सी.मुर्मू को इसके लिए प्रक्रिया शुरू करनी है. खन्ना ने कहा, 'हमने जम्मू में बूथ, मंडल व जिला स्तर पर चुनाव पूरे किए हैं और फिर कश्मीर में भी ऐसा किया जाएगा.' उन्होंने कहा कि खेलो कश्मीर के संबंध में अपनी तीन दिवसीय कश्मीर यात्रा के दौरान वह कई प्रतिनिधिमंडलों से मिले, जिसमें चिकित्सक, वकील, संविदा कर्मी व मजदूर शामिल थे.

यह भी पढ़ेंः बदले जाएंगे अंग्रेजों के जमाने के आईपीसी और सीआरपीसी कानून, गृहमंत्री अमित शाह ने दिया संकेत

इंटरनेट प्रतिबंध हटाने पर विचार
इंटरनेट प्रतिबंध के बारे में उन्होंने कहा कि इससे सीधे तौर पर मीडिया कर्मियों को दिक्कत हो रही है और वह इस मामले को उच्च अधिकारियों के समक्ष उठाएंगे. उन्होंने कहा, 'हम कोशिश करेंगे और जल्द ही इंटरनेट को बहाल करेंगे, मैं इस मामले को उठाऊंगा.' खन्ना ने अनुच्छेद 370 को रद्द किए जाने के बाद कश्मीर में पहले बड़े खेल कार्यक्रम 'खेलो इंडिया' को बढ़ावा दिया. इसमें विभिन्न जिलों के छात्रों ने श्रीनगर में इनडोर स्टेडियम में खेलों में भाग लिया. उन्होंने कहा कि कार्यक्रम का आयोजन सफल रहा और 700 से ज्यादा बच्चों ने खेल गतिविधियों में भाग लिया.

First Published: Nov 30, 2019 08:03:23 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो