BREAKING NEWS
  • Today History: आज ही के दिन Howard University की स्थापना की गई थी, जानें आज का इतिहास- Read More »
  • Horoscope, 20 November: जानिए कैसा रहेगा आज आपका दिन, पढ़िए 20 नवंबर का राशिफल- Read More »
  • हरियाणा सरकार करवाना चाहती है राम रहीम-हनीप्रीत मुलाकात, जानिए क्या है वजह- Read More »

युवराज के वकील ने कहा, घरेलू हिंसा की कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई

IANS   |   Updated On : October 19, 2017 08:29:14 AM
आकांक्षा शर्मा और युवराज सिंह (फाइल फोटो)

आकांक्षा शर्मा और युवराज सिंह (फाइल फोटो) (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

क्रिकेट खिलाड़ी युवराज सिंह का नाम उनकी भाभी आकांक्षा शर्मा द्वारा दायर की गई घरेलू हिंसा से संबंधित शिकायत में आया है। घरेलू हिंसा का यह मामला मुख्य रूप से युवराज के छोटे भाई जोरावर सिंह और उनकी मां शबनम सिंह के खिलाफ दायर किया गया है।

हालांकि, उनके परिवार के वकील का कहना है कि इस प्रकार का कोई भी मामला दर्ज नहीं किया गया है। युवराज के भाई जोरावर और उनकी मां शबनम के खिलाफ घरेलू हिंसा की शिकायत दर्ज की गई है।

शिकायतकर्ता आकांक्षा का आरोप है कि उन्हें मानसिक और वित्तीय रूप से यातनाएं दीं गईं। यहां एक अदालत ने युवराज और उनके परिवार को नोटिस जारी कर इसका जवाब मामले की पहली सुनवाई की तारीख 21 अक्टूबर को देने को कहा है।

आकांक्षा ने कहा कि उनके ससुराल वालों ने उन पर मां बनने का जोर डाला। इसके साथ ही उन्होंने अपनी शिकायत में युवराज का नाम लेते हुए कहा कि वह एक मूकदर्शक की तरह उनके परिवार वालों को उन्हें परेशान करते हुए देखते थे।

मुश्किल में युवराज सिंह, भाभी आकांक्षा ने घरेलू हिंसा का केस दर्ज कराया 

समाचार चैनल 'सीएनएन-न्यूज-18' ने आकांक्षा के हवाले बताया कि ऐसा एक दिन भी नहीं होता था, जब वह रोती नहीं थीं। इस मामले की जांच एसडीएम या महिला पुलिस अधिकारी द्वारा की जाएगी, जो अपनी रिपोर्ट अदालत को सौंपेंगे।

आकांक्षा की वकील स्वाति सिंह ने एक वेबसाइट को दिए बयान में बताया कि आकांक्षा ने युवराज, जोरावर और उनकी मां शबनम के खिलाफ घरेलू हिंसा की शिकायत दर्ज कराई है।

स्वाति ने कहा, 'घरेलू हिंसा का मतलब शारीरिक यातना ही नहीं होता है। इसका अर्थ मानसिक और वित्तीय रूप से दी गई यातनाएं भी होती हैं। इसके लिए युवराज को भी जिम्मेदार ठहराया जा सकता है, क्योंकि वह एक मूकदर्शक की तरह मेरी मुवक्किल पर होते अत्याचारों को देखते रहे।'

वकील ने कहा कि जब जोरावर और जोरावर की मां आकांक्षा पर बच्चे के लिए दबाव डाल रहे थे, तो युवराज ने भी उनका साथ दिया। वह भी आकांक्षा पर मां बनने के लिए दबाव डाल रहे थे। वह अपनी मां के साथ मिले हुए थे।

युवराज, शबनम और जोरावर के वकील दलबीर सिंह सोबती ने बुधवार को चंडीगढ़ में जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा, 'सोशल मीडिया में कई गलत बातें फैलाई गई हैं, जिसमें कहा गया कि मेरे मुवक्किल के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। ये सारे आरोप निराधार हैं। ऐसी कोई भी एफआईआर और शिकायत दर्ज नहीं की गई है।'

वकील ने कहा, 'आकांक्षा ने घरेलू हिंसा अधिनियम, 2005 से महिलाओं के संरक्षण की धारा 25 के तहत एक याचिका दायर की है और मेरे मुवक्किल को आरोपी बनाया।' 

आकांक्षा ने कलर्स चैनल पर बिग बॉस सीजन-10 के शो में हिस्सा लिया था और युवराज की मां शबनम और भाई जोरावर के खिलाफ कुछ अपमानजनक बयान भी दिए थे।

यह भी पढ़ें: मैडम तुसाद में लगेगा वरुण धवन का मोम का पुतला, 2018 में होगा अनावरण

कारोबार से जुड़ी ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें  

First Published: Oct 19, 2017 08:26:26 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो